Skymet weather

[Hindi] मॉनसून की सुधरेगी चाल, पूरे भारत में अच्छी बारिश के बन रहे हैं आसार, मुंबई में जल्द आएगी भारी बारिश: जतिन सिंह, एमडी स्काइमेट

July 22, 2019 1:33 PM |

Paddy sowing Monsoon 2019- NYDailyNews 1200

मॉनसून की सुधरेगी चाल, पूरे भारत में अच्छी बारिश के बन रहे हैं आसार, मुंबई में जल्द आएगी भारी बारिश: जतिन सिंह, एमडी स्काइमेट

मॉनसून में ब्रेक की स्थिति अब ख़त्म हो रही है। केरल में भारी बारिश हो रही है। अगले 24 घंटों में देश के कुछ और हिस्सों में मॉनसून वर्षा शुरू हो जाएगी जो मॉनसून के फिर से सक्रिय होने का संकेत है। अब जो बारिश देश के ज़्यादातर भागों में होगी उसमें छोटे-छोटे अंतराल के अलावा उम्मीद है कि अगले 10 दिनों तक यानि जुलाई के आखिर तक वर्षा होने के आसार हैं।

इस दौरान देश के अधिकांश भागों में हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ इलाकों में मूसलाधार वर्षा भी देखने को मिलेगी। राजस्थान में अब तक मॉनसून का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। अब यहाँ भी अच्छी बारिश होने के संकेत हैं। मॉनसून ने 19 जुलाई को आखिरी चरण में समूचे राजस्थान को कवर कर लिया और इस तरह देश के सभी भागों पर मॉनसून का आगमन हो गया।

आगामी दिनों में अच्छी बारिश की संभावना से उम्मीद है कि बारिश में कमी कि स्थिति में सुधार आएगा। 1 जून से 22 जुलाई तक बारिश में कमी काफी 18% के स्तर पर है। बारिश में कमी के आंकड़ों में वृद्धि पिछले दिनों मॉनसून में ब्रेक के कारण आई। इस दौरान देश में बहुत कम वर्षा दर्ज की गई। 1 जून से 22 जुलाई के बीच देश भर में कुल 291.3 मिमी बारिश हुई जबकि इस दौरान समान्यतः 356.8 मिमी बारिश होती है। मॉनसून में ब्रेक की स्थिति में अधिक नुकसान मध्य भारत के भागों में हुआ जहां 14 जुलाई को बारिश 6% कम थी वहीं 22 जुलाई को यह बढ़कर 19% पर आ गई। नीचे दिए गए टेबल में देश के चारों क्षेत्रों में बारिश के तुलनात्मक आंकड़े देख सकते हैं।

इससे पहले जुलाई की शुरुआत देश में अच्छी बारिश के साथ हुई थी। यही कारण है कि 30 जून तक जहां बारिश में 33% की कमी थी वह 13 जुलाई तक सुधर कर 12% पर आ गई थी।

अगर जुलाई महीने में हुई बारिश की बात करें तो, इस महीने में बारिश में कमी बहुत अधिक नहीं रहने वाली है। 1 जुलाई से 22 जुलाई तक देश भर में मात्र 2% कम वर्षा हुई है। हालांकि बारिश का वितरण समान नहीं रहा है जिससे कुछ भागों में बाढ़ की स्थिति रही तो कुछ हिस्सों में सूखे जैसे हालात रहे।

जुलाई के आखिरी में यानि अगले 10 दिनों के दौरान समूचे भारत में संतुलित मॉनसूनी बारिश के आसर हैं। राजस्थान, मराठवाड़ा और विदर्भ में अच्छी बारिश हो सकती है।

बिहार में फिर से बाढ़ की चुनौती, फसलों के तबाह होने का खतरा

अनुमान है कि 22 से 25 जुलाई के बीच बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्रों में भारी बारिश होगी। बारिश का खासा ज़ोर उत्तरी बिहार में पश्चिमी चंपारण से किशनगंज तक रहेगा। इन भागों में मूसलाधार वर्षा हो सकती है।

उत्तरी बिहार में सीवान, गोपालगंज, छपरा, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण और सितामढ़ी में पहले से ही बाढ़ का प्रकोप देखने को मिल रहा है। इन भागों में धान, मक्का, तिल, तूर और उड़द दाल की फसलें पानी में डूब गई हैं। आने वाले दिनों में भी भीषण बारिश से फसलों के क्षतिग्रस्त होने का खतरा और बढ़ जाता है।

दूसरी ओर दक्षिणी बिहार में सूखे जैसे हालात बने हुए हैं। भोजपुर, रोहतास, गया, औरंगाबाद और नवादा सहित दक्षिणी जिलों में फसलों को बारिश की तत्काल ज़रूरत है क्योंकि यहाँ सूखे के कारण फसलें नष्ट हो रही हैं। ऐसे में हल्की बारिश भी बड़ी राहत होगी।

पूर्वोत्तर भारत में आगामी दिनों में अच्छी बारिश होने वाली है। असम में फिर से मूसलाधार बारिश बाढ़ की स्थिति को और खराब कर सकती है। राज्य में लोगों को सतर्क रहने की ज़रूरत है।

MD SKYMET, JATIN SINGH: AFTER BREAK MONSOON, REVIVAL LIKELY AS GOOD RAINS TO LASH MOST PARTS OF INDIA. RAINS TO PICK UP PACE IN MUMBAI AS WELL

मुंबई में 25 जुलाई से महा-मॉनसून

अगले 10 दिनों के दौरान देश के अलग-अलग हिस्सों पर मौसमी सिस्टम विकसित होंगे, जो मॉनसून को सक्रिय करेंगे जिससे देश के अधिकांश भागों में बारिश होगी। मुंबई में इस समय बारिश कुछ ही स्थानों पर हो रही है। बारिश की तीव्रता भी बहुत अधिक नहीं है। लेकिन बारिश का दायरा और इसकी तीव्रता दोनों में बढ़ोत्तरी देखने को मिलेगी। मुंबई में 25 जुलाई से बारिश बढ़ने वाली है। इसलिए देश की आर्थिक राजधानी के लोगों को हमारा सुझाव है कि सतर्क हो जाएँ और मौसम पूर्वानुमान को अनदेखा ना करें।

Image Credit: NYDailyNews

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×