Skymet weather

[Hindi] जम्मू कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड में इस सप्ताह दिखेगी सीज़न की तीसरी और चौथी भारी बर्फबारी

November 21, 2019 5:03 PM |

himachal pradesh (1)

उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों में खासकर जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में नवम्बर के महीने में अब तक अच्छी मात्रा में वर्षा हो रही है। इस दौरान, खासकर जम्मू और कश्मीर में भारी बर्फबारी भी देखने को मिली है।

स्काईमेट के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, जम्मू और कश्मीर में 1 अक्टूबर से 20 नवंबर तक 131% अधिक वर्षा रिकॉर्ड हुई है। जबकि, अकेले नवंबर की बात करें तो 20.3 मिमी सामान्य आंकड़े के मुकाबले 101.5 मिमी बारिश हुई है। 6 नवंबर को जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी हुई थी। तब से राज्य में थोड़े-थोड़े अंतराल पर वर्षा की गतिविधियां देखी गई है।

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अच्छी बर्फबारी हो रही है, इस बर्फबारी को देखने के लिए मुख्य पर्यटक आकर्षण हो रहे है।

स्काईमेट के मौसम विज्ञानियों के अनुसार, एक के बाद एक लगातार पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पहाड़ियों को प्रभावित कर रहे हैं। जिसमें पहला पश्चिमी विक्षोभ 22 नवंबर से 23 नवंबर तक क्षेत्र को प्रभावित करेगा जबकि दूसरा पश्चिमी विक्षोभ 26 और 27 नवंबर के बीच क्षेत्र में विकसित होगा।

इस अवधि के दौरान, सभी पर्यटक अच्छी बर्फबारी होने की उम्मीद करते है। जबकि हिमाचल प्रदेश, मनाली, रोहतांग, गुलाबा और कोठी और जम्मू-कश्मीर, गुलमर्ग, पहलगाम और श्रीनगर में अच्छी मात्रा में बर्फबारी देखने को मिलेगी। साथ ही उत्तराखंड के केदारनाथ, बद्रीनाथ, यमुनोत्री, गंगोत्री और मुक्तेश्वर जैसे स्थानों पर भी भारी बर्फबारी होने का अनुमान है।

Image Credit:  Weather News Channel 

अनुमान है कि, अच्छी तीव्र के साथ व्यापक बर्फबारी हो सकती है। पर्यटकों को सलाह दी जाती है कि पहाड़ी राज्यों में यात्रा करते समय एहतियात सावधानी बरतें।

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

देश भर के मौसम का पूर्वानुमान जानने के लिए देखें वीडियो:







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×