>  
>  
31 जनवरी का मौसम पूर्वानुमान: कश्मीर, शिमला, श्रीनगर, मनाली में वर्षा और हिमपात

31 जनवरी का मौसम पूर्वानुमान: कश्मीर, शिमला, श्रीनगर, मनाली में वर्षा और हिमपात

06:40 PM

एक नया पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर पर बना हुआ है, इससे प्रेरित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पश्चिमी राजस्थान और साथ लगे क्षेत्रों पर देखा जा सकता है। ये सिस्टम अपने साथ, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में मध्यम से भारी बारिश देगा। पहाड़ों पर ऐवेलांच और भूस्खलन जैसी स्थिति से इंकार नहीं किया जा सकता।

इसके अलावा, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान पर कुछ जगहों पर बारिश का अनुमान है। साथ ही, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में रात के तापमान गिर सकते हैं।

हवा की दिशा बदलने और ठंडी हवाएँ चलने के कारण प्रदूषण एक बार फिर ज़ोर पकड़ेगा। कई जगहों पर ये बेहद खराब श्रेणी में भी मापा जा सकता है।

मध्य भारत की ओर बढ़ें तो, यहाँ मौसम शुष्क बना रहेगा। राजस्थान, गुजरात और पश्चिमी मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापमान एक-दो डिग्री से गिर सकते हैं। वहीं, विदर्भ और मराठवाड़ा में हल्की बढ़त होने का अनुमान है।

इसी तरह की मौसम गतिविधियाँ पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में भी देखी जाएंगी, जहां पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के न्यूनतम तापमान बढ़ सकते हैं। हालांकि, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल और ओड़ीशा में रात के तापमान सामान्य से कम मापे जाएंगे।

Click the image below to see the live lightning and thunderstorm across IndiaRain in India

साथ ही, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिज़ोरम और त्रिपुरा में आसमान साफ रहेगा। यहाँ भी न्यूनतम तापमानों में कमी दर्ज की जा सकती है।

वहीं, दक्षिणी प्रायद्वीप में कोई खास मौसम प्रणाली नहीं बनी हुई है। अनुमान है की तमिलनाडु में चल रही हल्की बारिश अगले 24 घंटों में थम जाएगी। कर्नाटक, रायलसीमा और तमिलनाडु में दिन और रात के तापमान बढ़ सकते हैं।

Any information taken from here should be credited to skymetweather.com