>  
>  
18 मार्च मौसम पूर्वानुमान: तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, नागालैंड में वर्षा

18 मार्च मौसम पूर्वानुमान: तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, नागालैंड में वर्षा

06:47 PM


 

उत्तर भारत के मौसम पूर्वानुमान से शुरुआत करेंगे। पर्वतीय राज्यों में अच्छी बारिश और बर्फबारी देने वाला पश्चिमी विक्षोभ पूर्वी दिशा में निकल गया है। इसके चलते जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में मौसम शुष्क हो गया है। अनुमान है कि रविवार को भी इन राज्यों में मौसम शुष्क बना रहेगा।

यही नहीं उत्तर भारत के मैदानी राज्यों में भी इस समय कोई मौसमी सिस्टम नहीं है जिससे पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कल मौसम साफ और शुष्क रहने की संभावना है।

Related Post

खिली धूप के प्रभाव से कश्मीर से लेकर राजस्थान तक दिन के तापमान में वृद्धि देखने को मिलेगी। हालांकि हल्की से मध्यम गति से चलने वाली उत्तर-पश्चिमी शुष्क हवाओं के प्रभाव से न्यूनतम तापमान सामान्य के आसपास रहेगा और रात तथा सुबह सुहावनी बनी रहेगी।

पूर्वी भारत कर रुख करें तो.... यहाँ असम और इससे सटे भागों के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इससे पूर्वोत्तर राज्यों में कई जगहों पर मौसम सक्रिय बना रहेगा। अनुमान है कि रविवार को असम, अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड में कई जगहों पर जबकि मणिपुर, मिज़ोरम और मेघालय में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है।

उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल तथा सिक्किम में भी हल्की वर्षा हो सकती है। बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर में मौसम शुष्क बना रहेगा। इन भागों के तापमान में हल्की वृद्धि हो सकती है।

मध्य भारत के राज्यों में पिछले दिनों की हलचल के बाद अब मौसम शुष्क हो गया है। इस समय छत्तीसगढ़ और इससे सटे भागों पर एक विपरीत चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इसके प्रभाव से मध्य भारत के ज्यादातर हिस्सों में मौसम शुष्क रहेगा। तटीय कर्नाटक से एक ट्रफ रेखा मध्य महाराष्ट्र के उत्तरी भाग तक बन गई है जिसके कारण मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में हल्की वर्षा तथा गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं।

गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।Rain in India

छत्तीसगढ़, विदर्भ और दक्षिणी मध्य प्रदेश में तापमान में 2 से 3 डिग्री तक की वृद्धि हो सकती है। गुजरात में भी शुष्क मौसम और खिली धूप के बीच तापमान सामान्य से ऊपर बना रहेगा।

आखिर में बात दक्षिण भारत के मौसम की.....

यहाँ दक्षिणी आंध्र प्रदेश से कर्नाटक होते हुए केरल तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। इसके प्रभाव से दक्षिणी राज्यों में कुछ स्थानों पर मौसम में हलचल जारी रहेगी। दक्षिणी कर्नाटक, केरल और रायलसीमा में हल्की से मध्यम वर्षा दर्ज की जा सकती है। उत्तरी तमिलनाडु के ज्यादातर हिस्सों में वर्षा में कमी आएगी जबकि दक्षिणी क्षेत्रों में बारिश जारी रहेगी।

जबकि तटीय आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में मौसम शुष्क बना रहेगा।

Please Note: Any information picked from here should be attributed to skymetweather.com