>  
[Hindi] इस सर्दी में इतनी स्वच्छ कभी ना थी दिल्ली की हवा, 25 फरवरी को लौटेगी बारिश

[Hindi] इस सर्दी में इतनी स्वच्छ कभी ना थी दिल्ली की हवा, 25 फरवरी को लौटेगी बारिश

02:01 PM

Delhi pleasant weather_The Lalit dot com 600दिल्ली और इससे सटे शहरों में पिछले तीन हफ्तों से मौसम में आ रहे उतार-चढ़ाव के बीच आज हवा काफी साफ नज़र आ रही है। अक्तूबर से फरवरी के बीच उजली और धुली-धुली सी फिज़ा का दिखना अब सपने जैसा हो गया है। आज वायु गुणवत्ता सूचकांक 113 पर आ गया।

जबकि दिल्ली के ऊपर अक्तूबर से फरवरी के बीच अधिकांश समय प्रदूषण की काली चादर छाई रहती है जिससे दिल्ली बदरंग नज़र आती है। हालांकि जानलेवा और कई बीमारियों को न्योता देने वाले इस प्रदूषण से बीच-बीच में होने वाली बारिश राहत दिलाती रहती है। लेकिन यह राहत मामूली होती है।

इस बीच फरवरी 2019 में दिल्ली में बीते तीनों हफ्तों में वर्षा की गतिविधियां देखने को मिलीं। अब आखिरी और चौथे सप्ताह में भी बारिश होने की संभावना बन रही है। यह महीना कमोबेस बरसात के महीनों सा लग रहा है। बारिश के कारण राजधानी दिल्ली का ना सिर्फ प्रदूषण साफ हो रहा है बल्कि इससे ग्राउंड वॉटर रीचार्ज भी हो रहा है। फरवरी में आमतौर पर जितनी बारिश होती है इस बार उससे दोगुनी अधिक वर्षा हुई है।

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार 21 फरवरी से दिल्ली में मौसम साफ हो जाएगा। अब 24 फरवरी तक बारिश की संभावना नहीं है। आसमान अधिकांश समय साफ रहेगा। प्रदूषण में भी काफी कमी रहेगी। उत्तर-पश्चिमी दिशा से ठंडी हवाएँ चलेंगी जिसके कारण रात के तापमान में गिरावट आएगी और सर्दी में कुछ इजाफ़ा होगा। 22 से 24 फरवरी के बीच न्यूनतम तापमान 10 डिग्री या उससे नीचे रहने का अनुमान है। अधिकतम तापमान भी सामान्य से कुछ कम तकरीबन 22 डिग्री पर बना रहेगा।

मौसम पिछले तीनों हफ्तों की कहानी 25 फरवरी से दोहराएगा। अनुमान है कि 25 फरवरी को एक नया पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर के पास आएगा। इसके प्रभाव से मैदानी इलाकों पर एक चक्रवाती क्षेत्र विकसित होगा और इस सिस्टम से उत्तर प्रदेश तक ट्रफ बन जाएगी। इन सभी मौसमी सिस्टमों के कारण दिल्ली में 25 और 26 फरवरी को बादल छाएंगे। हल्की बारिश 25 को शुरू होगी जबकि 26 फरवरी को मध्यम वर्षा देखने को मिल सकती है।

Image credit: TheLalit.com

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।