Skymet weather

[Hindi] उत्तर प्रदेश के उत्तरी जिलों में मूसलाधार बारिश के बाद जारी हुई बाढ़ की चेतावनी

July 10, 2019 11:25 AM |

उत्तर प्रदेश के ज्यादातर जगहों पर पिछले कुछ दिनों से अच्छी बारिश रिकॉर्ड हो रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान, बारिश की गतिविधियों में तेजी देखी गई है। राज्य के बहराइच, बरेली और गोरखपुर में पिछले दो दिनों के दौरान भारी बारिश रिकॉर्ड हुई है।

एक निम्न दवाब क्षेत्र जो उत्तर प्रदेश और बिहार के भागों में बना हुआ था। अब यह अच्छी तरह से चिन्हित निम्न दवाब क्षेत्र में परिवर्तित हो गया है तथा धीरे-धीरे यह पश्चिमी/उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ेगा। इस समय, एक ट्रफ रेखा इस सिस्टम से होते हुए गुजर रहा है और यह भी उत्तरी दिशा में आगे बढ़ेगा।

राज्य के उत्तरी जिलों में बारिश की तीव्रता बढ़ेगी और इसके साथ ही नज़ीबाबाद, मेरठ, गोरखपुर, महबूबनगर, सहारनपुर, बहराइच, बलरामपुर, लखीमपुर खीरी और सिद्धार्थनगर में भारी से मूसलाधार बारिश देखी जाएगी। इन क्षेत्रों में भारी बारिश के कारण बाढ़ की स्थितियों इंकार नहीं किया जा सकता है। रामगंगा, गोमती, शारदा, राप्ती जैसी नदियाँ के उफान होने की आशंका है। उत्तर प्रदेश के उत्तरी जिलों में इस मौसम की मार भुगतने की उम्मीदें ज्यादा है।

Also Read In English: Flood alert issued for northern districts of Uttar Pradesh

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के उत्तरी जिलों में 15 जुलाई तक मूसलाधार बारिश जारी रहने की उम्मीद है और इसके बाद कम हो जाएगी। जिसके बाद धीरे-धीरे, ट्रफ रेखा भी हिमालय के तराई वाले इलाके की ओर शिफ्ट हो जाएगा, जिससे वहां बारिश की गतिविधियां बढ़ेंगी। इसके कारण, उत्तराखंड की तलहटी वाले भागों में बारिश बढ़ेगी, जिससे उत्तर प्रदेश के लिए स्थितियां और बिगड़ जाएगी।

Image Credit:Firstpost

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें ।







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×