[Hindi] पंजाब, हरियाणा सहित दिल्ली और राजस्थान में गिरने लगा पारा, सर्दी जल्द देगी दस्तक

November 18, 2019 4:45 PM |

winters (2)

उत्तर भारत के मैदानी भागों में मौसम में बदलाव शुरू हो गया है। मैदानी भागों में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 12 नवंबर को इस सीजन का अब तक का सबसे कम न्यूनतम (11.7) डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। हालांकि तापमान गिरने के बाद फिर से बढ़ गया है। उदाहरण के तौर पर सोमवार का तापमान देख सकते हैं जब पारा 15.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

12 नवंबर के बाद से तापमान बढ़ने लगा क्योंकि एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में आ गया और इसने पहाड़ों से आने वाली ठंडी हवाओं को रोक लिया था। आपको बता दें कि जब पहाड़ों से ठंडी हवाएँ रुक जाती हैं तब दिल्ली, चंडीगढ़, अंबाला, करनाल, जयपुर, आगरा, मेरठ सहित सभी मैदानी शहरों में तापमान ऊपर चला जाता है। यह भी कह सकते हैं कि तापमान में गिरावट थम जाती है।

बता दें कि पश्चिमी विक्षोभ इस समय पहाड़ों के पास नहीं है। इसके चलते फिर से हिमालय से बर्फ की ठंडक लिए हवाएँ उत्तर के मैदानों चल रही हैं जिससे कई शहरों में तापमान में फिर से गिरावट हो रही है। उम्मीद है कि अगले दो दिनों तक पारा गिरेगा उसके बाद पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान गिरावट का सिलसिला थम जाएगा।

Also Read In English: As winter nears, temperatures start dropping in Punjab, Haryana, Delhi and Rajasthan

स्काइमेट मौसम विज्ञानियों के अनुसार, पश्चिमी हिमालय के पास 21 नवंबर तक एक पश्चिमी विक्षोभ आ सकता है। हालांकि यह कमजोर होगा जिससे तापमान में गिरावट का क्रम थमेगा भले लेकिन बढ़ेगा नहीं है। यह कहना मुमकिन है कि सप्ताह के अंत तक सर्दियां उत्तर भारत के मैदानों में शुरू हो जाएंगी। खासतौर पर सुबह और शाम के समय में सर्दी का असर आप महसूस कर सकेंगे।

Image Credit: India Today 

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

देश भर के मौसम का पूर्वानुमान जानने के लिए देखें वीडियो:

 







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories





latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×