>  
[Hindi] दिल्ली पर प्रदूषण और शीतलहर की दोहरी मार

[Hindi] दिल्ली पर प्रदूषण और शीतलहर की दोहरी मार

02:00 PM

 

Delhi-experiences-Chilly winter-PTC News 600

दिल्ली और आसपास के शहरों में शीतलहर का सितम लगभग एक पखवाड़े से जारी है। रविवार को दिल्ली में लंबे समय समय बाद 23 दिसम्बर की सुबह सबसे ज़्यादा सर्द रही क्योंकि तापमान गिरकर 3.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। बीते 4-5 दिनों से राजधानी में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना हुआ है, जो सामान्य से 4 डिग्री कम है। तापमान में लगातार गिरावट के कारण हवा में नमी बढ़ी है। हवा की रफ्तार भी कम हुई है जिसके कारण प्रदूषण फिर से प्रचंड हुआ है।

इस सीज़न में दिल्ली में कल यानि 23 दिसम्बर को न सिर्फ तापमान सबसे ज़्यादा नीचे गया बल्कि दिसम्बर महीने में सबसे अधिक प्रदूषण भी कल ही दिखा। स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस समय दिल्ली और आसपास के शहरों में दक्षिण-पूर्वी हवाएँ चल रही हैं। इन हवाओं के कारण ही आर्द्रता बढ़ी है जिससे वायु गुणवत्ता सूचकांक भी बेहद ख़राब श्रेणी में पहुँच गया है।

सोमवार को तापमान कुछ बढ़ा लेकिन सर्दी से राहत नहीं मिली, क्योंकि कोहरा घना हो गया। सीज़न में पहली बार कोहरा इतना अधिक हुआ है। अगले 24 घंटों तक हवा की रफ्तार कम रहेगी और हवा की दिशा दक्षिण-पूर्वी बनी रहेगी उसके बाद उत्तर-पश्चिमी हवाएँ चलना शुरू होंगी। इसके चलते अनुमान है कि क्रिसमस पर पारा 5 डिग्री या उससे ऊपर जा सकता है।

तापमान में लेकिन 26 दिसम्बर से फिर से गिरावट शुरू हो जाएगी जिससे कड़ाके की ठंडक अभी बाकी है। अनुमान है कि अगले दो-तीन दिनों में पारा और गिरकर 2-3 डिग्री तक जा सकता है। इस सप्ताह के आखिर तक दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, गाज़ियाबाद और फ़रीदाबाद में बारिश की संभावना नहीं है। प्रदूषण अधिक रहेगा और कड़ाके की ठंडक जारी रहेगी।

Image credit: PTC News

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।