[Hindi] मध्य भारत में डिप्रेशन अब निम्न दबाव बना; गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश में मूसलाधार बारिश

August 17, 2018 1:36 PM |

Rain in Maharashtra

मध्य भारत पर बना डिप्रेशन कमजोर होकर निम्न दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गया है। इस सिस्टम के कमजोर होने के बावजूद मध्य भारत के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश जारी रहने की संभावना है। यह सिस्टम इस समय उत्तर-पश्चिमी महाराष्ट्र और इससे सटे गुजरात और मध्य प्रदेश के ऊपर है और गहरे निम्न दबाव के रूप में मध्य भारत के मौसम को प्रभावित करता रहेगा।

महाराष्ट्र में लंबे समय से बारिश नहीं हुई थी लेकिन इस मॉनसून सिस्टम के प्रभाव से मध्य भारत के राज्यों में मुसलाधार वर्षा के लिए मौसमी परिदृश्य अनुकूल बना है। इससे पहले डिप्रेशन के प्रभाव से महाराष्ट्र के कई भागों में भीषण बारिश रिकॉर्ड की गई। बृहस्पतिवार की सुबह 8:30 बजे से पिछले 24 घंटों के दौरान औरंगाबाद में 157 मिलीमीटर वर्षा हुई। इसी तरह बुलढाणा में 130 मिमी, जलगांव में 127,वर्धा में 110 मिमी, नांदेड़ में 102 मिमी और परभणी में 78 मिलीमीटर की भारी वर्षा दर्ज की गई।

इसके अलावा गुजरात और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी मध्यम से भारी बारिश रिकॉर्ड की गई। डिप्रेशन के प्रभाव से तेलंगाना और उत्तरी आंध्र प्रदेश में भी मौसम में व्यापक बदलाव आया था। स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार मॉनसून सिस्टम अब भले ही कमजोर होकर गहरे निम्न दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गया है लेकिन इसकी क्षमता अभी इतनी है कि मध्य और पश्चिम भारत के भागों में मध्यम से भारी वर्षा लगातार देता रहेगा।

मॉनसून सिस्टम के पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ने और इसके अगले 24 से 48 घंटों तक सक्रिय रहने के आधार पर यह अनुमान लगाया जा रहा है कि गुजरात में 17 और 18 अगस्त को भीषण बारिश देखने को मिलेगी। कच्छ क्षेत्र में भी मध्यम से भारी वर्षा होने की उम्मीद है। लंबे समय से शुष्क मौसम का सामना कर रहे गुजरात में अचानक इस संभावित भीषण वर्षा के कारण बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Live lightning and thunderstorm status

इसके अलावा दक्षिण-पूर्वी राजस्थान और दक्षिण पश्चिमी मध्य प्रदेश में भी अगले 24 घंटों के दौरान मूसलाधार वर्षा हो सकती है। साथ ही मध्य महाराष्ट्र के उत्तरी भागों में भी मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना है। पश्चिम में गुजरात के करीब पहुंचने के कारण मध्य भारत के पूर्वी हिस्सों विशेषकर विदर्भ और मराठवाड़ा क्षेत्र में मॉनसूनी हलचल कम हो जाएगी। लेकिन मध्यम बारिश के साथ एक-दो जगहों पर भारी वर्षा गतिविधियां अभी भी जारी रहेंगी।

Image credit: Indiatoday

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 


For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
#WeatherForecast Oct 15: Onset of Northeast Monsoon anytime soon, #AQI of #Delhi and NCR slips further" on YouTube t.co/OaSfQV4I4k
Monday, October 14 22:31Reply
हवामान अंदाज 15 ऑक्टोबर: दक्षिण मध्य महाराष्ट्र आणि दक्षिण कोकण आणि गोवा येथे हलका ते मध्यम पाऊस:… t.co/AuSmNY5UJa
Monday, October 14 22:00Reply
दिल्ली एनसीआर में हवा की गुणवत्ता और हुई ख़राब: t.co/OvS1z6LqcP #Hindi #Delhi #Delhipollution
Monday, October 14 21:31Reply
अक्टूबर में कर्नाटक देखेगा भारी बारिश: t.co/J6LFQ6TPk6 #Hindi #Karnataka #WeatherForecast
Monday, October 14 21:00Reply
#Monsoon has vacated #Mumbai and #Kolkata. With this, #weather conditions are now set to change over both the citie… t.co/2VFc6pvQdp
Monday, October 14 20:40Reply
Scattered to fairly widespread #rainfall with isolated heavy falls accompanied with thunderstorms and lightning lik… t.co/tUHmfqZNxY
Monday, October 14 20:30Reply
#Hindi: विशाखापट्नम, काकीनाडा सहित कर्नूल में बारिश हैदराबाद में भी गरज व चमक के साथ बारिश के आसारI #Telanganat.co/1TeaoCNSSo
Monday, October 14 20:00Reply
#Marathi: महाराष्ट्रात १७ ऑक्टोबरच्या आसपास पाऊस वाढणे अपेक्षित | #Maharashtra t.co/tfmKstYg4W
Monday, October 14 19:30Reply
केरल में जारी रहेगी अच्छी बारिश कोच्चि और पुनलुर में भारी बारिश के आसार आंतरिक तमिलनाडु में माध्यम से भारी बारिश चे… t.co/SOGbDQuKg7
Monday, October 14 19:00Reply
उत्तर पश्चिम भारत में अब उमस भी काफी कम है और इसके कारण हमे उम्मीद है की रात के तापमान में लगभग 2 डिग्री की गिरावट… t.co/kJuYh1XuDb
Monday, October 14 18:30Reply

latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try