>  
[Hindi] हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश में होने वाली है बारिश; गर्मी और धूल से मिलेगी राहत

[Hindi] हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश में होने वाली है बारिश; गर्मी और धूल से मिलेगी राहत

06:00 PM

Rain in northwest India

उत्तर भारत के मैदानी राज्यों में पिछले कुछ दिनों से धूल का गुबार, मौसम की मार को बढ़ा रहा है। लोग गर्मी और शुष्क मौसम से पहले से ही परेशान हैं ऐसे में तेज़ दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के साथ आ रही धूल और रेत से मौसम की बेरुख़ी और बढ़ गई है। इस पर मॉनसून एक्सप्रेस के लेट होने की ख़बर और हताश करने वाली है। हालांकि इन सबके बीच हमारे पास एक राहत की ख़बर है।

पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान छिटपुट प्री-मॉनसून वर्षा शुरू होने की संभावना है। मैदानी राज्यों में प्री-मॉनसून वर्षा अलग-अलग तीव्रता से रुक-रुक कर अगले 48 घंटों तक जारी रह सकती है। बारिश का प्रभाव पंजाब और उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्रों में अधिक होगा। 48 घंटों के बाद पंजाब के कुछ भागों में अच्छी बारिश दर्ज किए जाने की भी संभावना है। हालांकि हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में 48 घंटों के बाद बारिश में कमी आएगी। बारिश के चलते तापमान में कुछ कमी आ सकती है जिससे गर्मी से व्यापक राहत मिलेगी।

Related Post

जम्मू कश्मीर से असम तक हिमालय के तराई क्षेत्रों से होते हुए एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। यही ट्रफ दक्षिण में आएगी जिसके चलते उत्तर भारत के मैदानी राज्यों में प्री-मॉनसून हलचल बढ़ जाएगी। ट्रफ के प्रभाव से पिछले 24 से 48 घंटों के दौरान हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में व्यापक बारिश शुरू हुई है। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Lightning and thunderstorm in northwest India

इस बीच पिछले कुछ दिनों से राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पंजाब में धूल भरी तेज़ दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ चल रही हैं। इसके चलते मैदानी राज्यों में धूल की मोटी चादर तनी हुई है जिससे दिन और रात में मौसम बेहद असहज बना हुआ है। अगले 24 घंटों में शुरू होने वाली प्री-मॉनसून वर्षा के चलते इस धूल के प्रकोप से भी राहत मिलने के आसार हैं। राजस्थान के उत्तरी भागों में भी हवा बदलेगी लेकिन बारिश के आसार नहीं हैं जिससे राज्य में गर्मी बनी रहेगी।

Image credit: Tribune India

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।