>  
[Hindi] दिल्ली में जारी है कभी बारिश तो कभी प्रचंड गर्मी का खेल

[Hindi] दिल्ली में जारी है कभी बारिश तो कभी प्रचंड गर्मी का खेल

07:42 PM

Delhi Dust storm_IndiaToday 600 दिल्ली में मार्च में बेहद गर्म मौसम के बाद अप्रैल की शुरुआत में मौसम का रुख बदला और राजधानी दिल्ली में बारिश के चलते तापमान में गिरावट के साथ तेज गर्मी से राहत मिली। यही नहीं अप्रैल की शुरुआत से ही दिल्ली वालों को कभी प्री-मॉनसून बारिश देखने को मिल रही है तो कभी तेज़ गर्मी का भी सामना करना पड़ रहा है। अप्रैल में दिल्ली में औसतन 13 मिलीमीटर बारिश होती है और 25 अप्रैल तक के आंकड़े देखें तो राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 13 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की जा चुकी है।

दिन में ज़्यादातर समय तापमान 35 से 38 डिग्री सेल्सियस के बीच रिकॉर्ड किया गया। कुछ ही दिन ऐसे आए जब तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रहा और 40 डिग्री सेल्सियस या उससे ऊपर तापमान केवल 2 दिन रिकॉर्ड किया गया। इसमें आज सफदरजंग में अधिकतम तापमान बढ़कर 41.6 डिग्री सेल्सियस और पालम में 43.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया, जो इस सीज़न का सबसे अधिक है।

नीचे दी गई टेबल में आप देख सकते हैं कि हाल के वर्षों में अप्रैल में कितनी बारिश हुई और अप्रैल महीने में कितने दिन ऐसे रहे जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर रिकॉर्ड किया गया।

Delhi weather

टेबल में दिये गए आंकड़ों के अनुसार 2018 के अप्रैल में मौसम की स्थिति कमोबेस 2012 और 2013 जैसी रही जब 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान कम दिनों में रहा और बारिश भी दो अंकों में दर्ज की गई। यही नहीं पिछले 10 वर्षों में 2012 एकमात्र ऐसा साल रहा जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर नहीं पहुंचा।

इस बीच हमारा अनुमान है कि दिल्ली में अगले 24 घंटों तक मौसम में कोई परिवर्तन नहीं होगा और कल भी तापमान इसी स्तर पर बना रहेगा। उसके बाद मौसम के रुख में कुछ बदलाव आएगा और पारा नीचे जाएगा। स्काईमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस समय गर्म और शुष्क उत्तर पश्चिमी हवाएं चल रही हैं जो 26 अप्रैल से बदल कर दक्षिण-पूर्वी आर्द्र हो जाएंगी।

Related Post

इस बदलाव से राजधानी दिल्ली और आसपास के शहरों में 27 और 28 अप्रैल को बादलों की गर्जना होने और धूल भरी आंधी चलने जैसी प्री-मानसून गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं। अनुमान है कि शुक्रवार की शाम और शनिवार की सुबह ऐसी मौसमी हलचलें होंगी जिससे तापमान वर्तमान स्थिति से कुछ नीचे रहेगा। हालांकि 29 अप्रैल से मौसम फिर से साफ होगा और तापमान में बढ़ोतरी होगी। मई का आगाज बढ़ते हुए तापमान के साथ होने की संभावना है।

Image credit: IndiaToday

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।