Skymet weather

[Hindi] इंदौर, खंडवा, जबलपुर, दुर्ग और रायपुर में कल तक बारिश; उसके बाद सूखा होगा मौसम

October 11, 2017 5:10 PM |

Rain in Raipur Chhattisgarhमध्य भारत के कई हिस्सों में इस समय मौसम सक्रिय है। पिछले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश के दक्षिण जिलों और दक्षिणी छत्तीसगढ़ में कुछ स्थानों पर गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई है। बंगाल की खाड़ी से आर्द्र हवाएँ दोनों राज्यों में अगले 24 से 48 घंटों तक चलती रहेंगी जिसके चलते दक्षिणी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में वर्षा जारी रहने की संभावना है।

[yuzo_related]

मंगलवार की सुबह 8:30 बजे से पिछले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश के खंडवा में 46 मिलीमीटर की भारी वर्षा रिकॉर्ड की गई है। खरगौन में 30 मिमी, शाजापुर में 12 मिमी, उज्जैन में 9 मिमी और रतलाम में 3 मिलीमीटर बारिश हुई है। छत्तीसगढ़ में इस दौरान कई जगहों पर हल्की से मध्यम बौछारें दर्ज की गई हैं। रायपुर में 31 मिमी, जगदलपुर में 29 मिमी और दुर्ग में 22 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई।

मध्य भारत में इस समय उत्तर-पश्चिमी शुष्क हवाएँ दक्षिण-पूर्वी आर्द्र हवाओं मिल रही हैं। इसके चलते दोनों राज्यों में कई स्थानों पर कल तक मौसमी हलचल बनी रहेगी। अनुमान है कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के दक्षिणी हिस्सों में कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं। उत्तरी छत्तीसगढ़ में एक-दो स्थानों पर वर्षा का अनुमान है। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

lightning in mp and chhattisgarh

अगले 24 घंटों के दौरान दुर्ग, जगदलपुर, बस्तर, रायपुर सहित दक्षिणी छत्तीसगढ़ में कई जगहों पर गरज के साथ वर्षा होने के आसार है। इसी तरह खरगौन, खंडवा, धार, बेतुल, छिंदवाड़ा, सिवनी, होशंगाबाद और इंदौर सहित मध्य प्रदेश में भी कुछ स्थानों पर गर्जना और वर्षा संभावित है। हालांकि गुना, शिवपुरी, दतिया, टीकमगढ़, खजुराहो और शाजापुर में मौसम शुष्क बना रहेगा।

Image credit: Hitwada News

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×