Skymet weather

[Hindi] कृषि मंत्री ने कहा मॉनसून में सुधार से खरीफ़ बुआई ने पकड़ी रफ़्तार | स्काइमेट को आशंका कि मॉनसून जल्द होगा कमजोर, फसलों की उत्पादकता होगी प्रभावित

August 11, 2019 1:57 PM |

Paddy sowing in 2019_NYDailyNews 1200

साल 2019 में मॉनसून की शुरुआत बहुत ही निराशाजनक हुई थी। स्काइमेट ने जैसा अनुमान लगाया था जून में सामान्य से 33% कम बारिश हुई थी। जुलाई में स्थिति सुधार और अगस्त में अब तक काफी अच्छी बारिश देश के कई इलाकों में देखने को मिली जिससे मंद पड़ी खेती की रफ़्तार बढ़ी है और किसानों ने राहत की सांस ली है।

देश के अधिकांश इलाकों में पिछले कई दिनों से हो रही अच्छी बारिश से साल 2019 की मॉनसून वर्षा में जो कमी रह गई थी उसमें सुधार देखने को मिला है। अब खरीफ सीज़न में बोई जाने वाली फसलों की बुआई का काम अच्छी रफ़्तार से आगे बढ़ रहा है। सरकार ने जानकारी दी है कि बुआई में सुधार हुआ है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बृहस्पतिवार को यह बात कही थी।

कृषि मंत्री ने मीडिया से कहा कि मॉनसून में आने में देरी हुई जिससे कुछ चिंता पैदा हो गई थी। अब बारिश की स्थिति में सुधार हुआ है। बारिश की कमी की काफी भरपाई हो गई है।" उन्होंने कहा, ''हमें उम्मीद है कि बारिश अच्छी होने से खरीफ फसलों के अंतर्गत बोए जाने वाले रकबे में जो कमी थी उसे पूरा कर लिया जाएगा। श्री तोमर ने कहा कि बुआई का काम अच्छी तरह से आगे बढ़ रहा है।

हालांकि बीते दिनों मॉनसून का कुछ राज्यों में उग्र प्रदर्शन भी देखने को मिला जिससे कई इलाके बाढ़ की चपेट में हैं। महाराष्ट्र और कर्नाटक जैसे कुछ राज्यों में बाढ़ का ज़िक्र करते हुए पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि केंद्र सरकार स्थिति पर नजर रखे हुए है। धान और दलहन जैसी खरीफ फसलों की बुआई जून में मॉनसून के आरंभ के साथ शुरू होती है और कटाई का काम अक्टूबर से होता है।

कृषि मंत्रालय ने जारी किए बुआई के आंकड़े

भारत के कृषि मंत्रालय द्वारा जारी किए गए बुआई के ताजा आंकड़ों के अनुसार खरीफ बुआई अब तक पीछे है। खरीफ की सभी फसलों की बुआई का कुल रकबा साल भर पहले जहां 918.70 लाख हेक्टेयर था वहीं इस साल अब 869.55 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में ही बुआई हुई है।

फसल वर्ष 2019-20 के खरीफ सत्र में अब तक धान की बुआई का रकबा 265.20 लाख हेक्टेयर है। पिछले साल अब तक 304.18 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में धान बोया जा चुका था। दलहन बुआई के रकबे में सुधार हुआ है, लेकिन तिलहन का रकबा अभी भी कम है। हालांकि आने वाले दिनों में इस कमी की भरपाई हो जाएगी। आंकड़ों के अनुसार, इस वर्ष खरीफ सत्र में 115.39 लाख हेक्टेयर में दलहन की बुआई की गई है। पिछले साल इसी अवधि में 121.39 लाख हेक्टेयर में दलहन की बुआई हुई थी। तिलहन की बुआई 157.17 लाख हेक्टेयर में की गई है जो पिछले साल की समान अवधि में 162.52 लाख हेक्टेयर था।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार में मोटे अनाज की बुआई 153.92 लाख हेक्टेयर में की गई है पिछले साल की समान अवधि में यह रकबा 162.52 लाख हेक्टेयर था। इसी तरह चालू खरीफ सीज़न में गन्ने की बुआई का रकबा 52.30 लाख हेक्टेयर है जो पिछले साल 55.45 लाख हेक्टेयर था।

स्काइमेट को जल्द मॉनसून के कमजोर होने की आशंका

मॉनसून की स्थिति में सुधार को देखते हुए कृषि मंत्रालय आशावान है कि बुआई में सुधार होगा लेकिन स्काइमेट को चिंता इस बात है कि आने वाले दिनों में मॉनसून कमजोर होगा जिससे फसलों की उत्पादकता प्रभावित हो सकती है। एक तरफ देर से बुआई और दूसरी ओर बारिश में कमी समूचे फसल उत्पादन पर असर डाल सकता है।

Image credit: NYDailyNews

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।


For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
RT @Mpalawat: Heavy #rains continues over #Kerala. #Cochin 151 mm, #Karipur Airport 128 mm, #Kozhikode 114, #Cannur 49 mm and #Punalur rece…
Sunday, August 11 13:09Reply
#Weather alert for #Odisha Light to moderate #rain and #thundershowers at many places with heavy showers at some pl… t.co/a4zidcDFwS
Sunday, August 11 12:10Reply
In the last 24 hours from 8.30 am on Saturday, Naliya in #Gujarat has been the rainiest place in India with 275 mm… t.co/sqoqX8FjHR
Sunday, August 11 11:24Reply
Not sure what the mother nature has in store for #Maharashtra, as the state is reeling under floods and drought sit… t.co/POJrYhZPxa
Sunday, August 11 10:33Reply
#flood situation will persist in #Gujarat for another 24 to 36 hours #GujaratFloods #GujaratRains #GujaratRain t.co/jqQTeRLFrA
Sunday, August 11 09:55Reply
15 और 16 अगस्त को बिहार के लगभग सभी जिलों में चाहे पूर्व में किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर हों या दक्… t.co/fgagjLg0so
Saturday, August 10 22:19Reply
During the next 24 hours, Vigorous #Monsoon conditions are likely over West #Gujarat, Kutch, Coastal Karnataka, and… t.co/78XaVwzSAY
Saturday, August 10 22:03Reply
वर्तमान में, तेज़ हवाओं और नमी के कारण, दिल्ली क्षेत्र पर सुबह और रात के समय बादल छाए रहने की उम्मीद है। इसके साथ,… t.co/96OYIrBF4A
Saturday, August 10 20:00Reply
RT @Mpalawat: Now #rains will be heavy over south #Sindh in #Pakistan for next 24 to 36 hours. @SkymetWeather
Saturday, August 10 19:32Reply
Fifteen sluice gates of the Bargi dam built on the river #Narmada in #Jabalpur district were opened following inces… t.co/7XdnRiVHcf
Saturday, August 10 19:30Reply

latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try