>  
[Hindi] दिल्ली में लौटा मॉनसून; लंबा चलेगा बारिश का यह दौर

[Hindi] दिल्ली में लौटा मॉनसून; लंबा चलेगा बारिश का यह दौर

01:28 PM

Delhi Rains

दिल्ली में की बुधवार की सुबह घने बादलों के साथ शुरू हुई। इसके अलावा सुबह ही रिमझिम फुहारों ने दिल्ली-एनसीआर के मौसम को खुशनुमा बना दिया। इस बारिश से तापमान में 4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट हुई क्योंकि कल सुबह 9 बजे जहां पारा 32 डिग्री था वहीं आज यह 28 डिग्री पर आ गया। मॉनसून की हलचल बढ़ने से दिल्ली और एनसीआर के लोगों को लंबे समय से जारी उमस और गर्मी से बड़ी राहत मिली है।

स्काइमेट के अनुसार दिल्ली में आए इस मौसमी बदलाव की वजह है मॉनसून की अक्षीय रेखा है, जो धीरे-धीरे उत्तरी भागों की ओर आ रही है। इसके अलावा दिल्ली के दक्षिण-पूर्व में एक निम्न दबाव का क्षेत्र भी बना हुआ है। इन सिस्टमों के दिल्ली के पास होने के चलते अगले 24 घंटों में दिल्ली और आसपास के शहरों में बारिश और तेज़ हो सकती है। अनुमान है कि इस दौरान दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, गाज़ियाबाद और फ़रीदाबाद में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है।

Related Post

अगले 24 घंटों के बाद बारिश में कुछ कमी भी आएगी, लेकिन रुक-रुक कर हल्की से मध्यम बारिश इस महीने के आखिर तक बनी रह सकती है। इसके चलते तापमान में भी कमी बनी रहेगी और गर्मी तथा उमस से राहत भी मिलेगी। दिल्ली में जारी मॉनसून वर्षा के लुका-छिपी खेल के बीच 22 जुलाई को राजधानी में 70 मिमी की मूसलाधार बारिश रिकॉर्ड की गई थी। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Lightning and Thunderstorm in Delhi

दिल्ली में इस मॉनसून सीज़न में अब तक लगभग 200 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है, जो सामान्य से 13 प्रतिशत कम है। हालांकि दिल्ली के दोनों प्रमुख मौसम केन्द्रों पर जुलाई में सामान्य से अधिक बारिश हो चुकी है। जुलाई में सफदरजंग में 187.3 मिमी बारिश होती है जबकि इस बार अब तक 203.9 मिमी बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है। पालम में भी 174.4 मिमी के मुक़ाबले 175.9 मिमी बारिश हो चुकी है। अगले कुछ दिन अच्छी बारिश की संभावना को देखते हुए अनुमान है कि इन आंकड़ों में और वृद्धि दिख सकती है।

Image credit: IndiaToday

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।