Skymet weather

[Hindi] उत्तर प्रदेश में बाढ़ के कारण 70 से ज़्यादा लोगों की मौत, कल से बारिश कम होने की उम्मीद

September 30, 2019 5:33 PM |

uttar pardesh (2)

बिहार में भारी बारिश की स्थिति के साथ ही उत्तर प्रदेश में भी काफी समय से बाढ़ की स्थिति बनी हुई है और हर जगह बाढ़ जैसे हालात देखने को मिल रही है।

गुरुवार और शुक्रवार को 47 मौतें हुई थीं और भारी बारिश के कारण शनिवार को भी पूरे राज्य भर में 26 अतिरिक्त लोगों की जान जानें की खबर सामने आ रही थी।

हालांकि, पिछले 24 घंटों में, पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश कम हुई है, वाराणसी में रविवार को सुबह 8:30 बजे से केवल 2 मिमी बारिश दर्ज की गई । इसी दौरान, गोरखपुर में 21 मिलीमीटर की बारिश दर्ज की गई, जबकि अन्य भागों में हल्की से मध्यम वर्षा देखी गई।

पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई है जिसके साथ गंगा और यमुना दोनों खतरे के स्तर से ऊपर बह रही हैं । हालांकि बारिश अब कम हो जाएगी, क्षेत्र से पानी कम होने में थोड़ा समय लगेगा।

बाढ़ की वजह से जिन लोगों की जान गई है उनके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रभागीय आयुक्तों और जिलाधिकारियों को सभी संभावित उपाय करने और बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत देने के निर्देश दिए हैं । योगी ने अधिकारियों से मृतकों के परिवार के सदस्यों को 2-2 लाख रुपये की मदद देने को कहा है।

हालांकि, बारिश आज भी पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक-दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश देखी जा सकती है।

Also read in English: More than 70 killed in Uttar Pradesh floods, rains to start reducing now

अनुमान है की कल तक, प्रदेश में बारिश की तीव्रता हल्की हो जाएगी। क्यूंकी, एक ट्रफ रेखा जो कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार होते हुए पूर्वोत्तर भारत तक जा रही है वह अब धीरे-धीरे कमजोर हो जाएगी।

Image Credit: TWC

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें । 

देश भर के मौसम का हाल जानने के लिए, देखें विडियो:   







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×