Skymet weather

[Hindi] जानलेवा हुई मुंबई की बारिश, 20 से अधिक लोगों की गई जान और तक़रीबन 60 लोग हुए घायल

July 2, 2019 12:42 PM |

मुंबई प्रशासन ने भारी बारिश के बाद एक सलाह जारी करते हुए मुंबई के निवासियों से अनुरोध किया है कि जब तक कुछ जरूरी न हो , तब तक घर से बाहर न निकलें। आपको बता दें कि, मूसलाधार बारिश ने मुंबई को डुबो दिया है और बीती रात से लगातार यहां बारिश हो रही है।

महाराष्ट्र सरकार ने भारी वर्षा के पूर्वानुमान को देखते हुए सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया है। स्काइमेट के विशेषज्ञों ने कहा है कि आज यानि 2 जुलाई को सुबह 11.53 बजे के आसपास, लगभग 5 मीटर ऊंचे ऊंचे ज्वार का नजारा देखा जा सकता है इसलिए लोगों से विनम्र अनुरोध है कि वे अपने घरों के अंदर ही रहें।

अब तक के रिकॉर्ड के अनुसार, मलाड के कुरार इलाके में एक दीवार गिरने से लगभग साठ लोग घायल हुए हैं और बीस से अधिक लोगों की जानें गयी है। घायलों को शताब्दी अस्पताल ले जाया गया है।

भारतीय नौसेना ने बी एम सी के अनुरोध के बाद कुर्ला क्षेत्र में बारिश से प्रभावित और फंसे हुए लोगों को सहायता करने के लिए अलग-अलग टीमों को तैनात किया है। मलाड के कुरार इलाके में बीस से अधिक लोगों की मौत के बाद, उससे सटे आस-पास की दीवार के भी गिरने की खबर सामने आयी है जिसमें कई लोगों के फंसे होने की आशंका है। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है और बचाव अभियान जारी है। एनडीआरएफ, फायर ब्रिगेड, नौसेना की टीमों के साथ-साथ स्थानीय स्वयंसेवकों की मदद से लगभग 1000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इसके लिए दुख व्यक्त किया है और अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि वह मलाड की दीवार ढहने की घटनाओं में हुए जानमाल के नुकसान से दुखी हैं। इसके अलावा, उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि मृतक के परिजनों को पांच लाख रुपये दिए जाएंगे।

कुछ दिनों पहले ही दादर में विद्युतीकरण के कारण लोगों की मौत हो गई थी वहीं एक दीवार गिरने से कई लोग घायल हो गए थे।

Image Credit:Twitter

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें ।








For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×