[Hindi] आगरा, कानपुर, लखनऊ, इलाहाबाद सहित उत्तर प्रदेश में अगले कुछ दिनों तक शुष्क मौसम

July 5, 2018 2:13 PM |

Lucknow pre Monsoon rain

उत्तर प्रदेश में बीते दिनों हुई भारी बारिश और नेपाल हुई मूसलाधार वर्षा के चलते राज्य के तराई वाले जिलों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। उत्तर प्रदेश की कई नदियों में जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुँच गया है। जिससे निपटने के लिए संबन्धित एजेंसियां अलर्ट पर हैं।

भारी बारिश का असर उत्तरी जिलों रामपुर, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, महराजगंज और कुशीनगर सहित आसपास के भागों में सबसे अधिक दिखा है। बारिश का पिछला झोंका सबसे पहले गोरखपुर में आया और शहरों से लेकर गाँव तक निचले इलाके जलमग्न हो गए और नदियों में पानी ऊपर पहुँच गया। इन भागों में अगले 24 से 48 घंटों तक हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने की संभावना है।

दूसरी ओर आगरा, मेरठ, अलीगढ़, मथुरा, बांदा, कानपुर, इलाहाबाद सहित दक्षिणी भागों में भी पिछले दिनों कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बौछारें दर्ज की गईं। इन दक्षिणी जिलों में बारिश में कमी आ गई है क्योंकि बारिश दे रही मॉनसून की अक्षीय रेखा कमजोर हो गई है। इस समय मॉनसून ट्रफ अनुपगढ़, हिसार, नरनौल, अलीगढ़, बहराइच होते हुए गुज़र रही है।

[yuzo_related]

इस बदलाव के बीच बंगाल की खाड़ी से उठने वाली दक्षिण-पूर्वी आर्द्र हवाएँ राज्य तक नहीं पहुँच पा रही हैं जिससे बारिश में कमी रहेगी। कुछ इलाकों विशेषकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में उत्तर-पश्चिमी हवाएँ चलेंगी और धूप खिली रहेगी। हालांकि छिटपुट बादल भी देखे जा सकते हैं। राज्य के अधिकतर शहरों में तापमान में वृद्धि होने की संभावना है।

उत्तर प्रदेश में 9-10 जुलाई से मॉनसून के फिर से सक्रिय होने की संभावना दिखाई दे रही है। स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार बंगाल की खाड़ी पर एक सिस्टम बनेगा जो धीरे-धीरे पश्चिमी दिशा में बढ़ेगा और उत्तर प्रदेश को प्रभावित करेगा।

Image credit: Lokmat Hindi

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 






For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories




Weather on Twitter
स्काइमेट मौसम विज्ञानियों के अनुसार, पश्चिमी हिमालय के पास 21 नवंबर तक एक पश्चिमी विक्षोभ आ सकता है। हालांकि यह कम… t.co/Gp3v3k0BEQ
Monday, November 18 19:00Reply
As easterly Trough is extending to Tamil Nadu Coast, light #rain is likely in Coastal #TamilNadu while the hilly re… t.co/IYQauDETYk
Monday, November 18 18:45Reply
अगर आंकड़ों पर नजर डालें तो 1 नवंबर से 17 नवंबर तक, जम्मू कश्मीर में 16.1 मिमी सामान्य वर्षा और बर्फबारी के मुकाबले… t.co/Z0uMCraLIr
Monday, November 18 18:30Reply
#Hindi: तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, असम, अरुणाचल प्रदेश में बारिश होने की संभावना। कश्मीर, लद्दाख, गुजरा… t.co/Nw7KlgI5Gl
Monday, November 18 18:15Reply
RT @JATINSKYMET: #DelhiNCRPollution is at an all-time low but areas near Delhi/NCR like #Meerut and #Jodhkan are still in the hazardous cat…
Monday, November 18 18:13Reply
आता, पश्चिमी विक्षोभ दूर झाल्यामुळे, पश्चिम हिमालयातील बर्फाच्छादित पर्वतांमधून बर्फाच्छादित-थंड वाऱ्यांचा प्रवाह उ… t.co/gcaXwORyge
Monday, November 18 17:57Reply
#Marathi: कोल्हापूर, सोलापूर, सातारा, पुणे आणि अहमदनगर मध्ये २० आणि २१ नोव्हेंबरला पाऊस पडण्याची शक्यता आहे. मुंबईत… t.co/gRNlFt58GP
Monday, November 18 17:45Reply
दिल्ली मधील प्रमुख भागांमध्ये सकाळच्या वेळेस प्रदूषण ‘मध्यम’ श्रेणीत राहिल्यामुळे आज दिल्लीकरांची पहाट स्वच्छ वाताव… t.co/4YDO4DcDDs
Monday, November 18 17:23Reply
This year likewise last year, early snowfall activity has been a sight. The first snow in November this year was wi… t.co/c2FHa1RCod
Monday, November 18 17:00Reply
#Hindi: नया वेस्टर्न डिस्ट्रबेंस के प्रभाव से जम्मू कश्मीर, लदाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फ़बारी| दिल्ली… t.co/UjeDda45xj
Monday, November 18 16:45Reply

latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try