[Hindi] चक्रवात 'वायु' कमजोर होकर भी भिगोएगा उदयपुर, पाली और कोटा सहित राजस्थान के कई शहरों को

June 18, 2019 7:18 PM |

jaipur-weather

राजस्थान के अधिकांश भागों में बीते कुछ दिनों से बारिश हो रही हैं। इसके अलावा आने वाले दिनों में इन हलचलों में बढ़ोत्तरी के आसार हैं।

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, गुजरात के कच्छ के भागों पर इस समय गहरे निम्न दबाव क्षेत्र का बना हुआ है। जोकि आगे बढ़ते हुए राजस्थान के दक्षिण-पूर्वी भागों तक पहुँच जायेगा। इसके कारण राजस्थान के दक्षिण-पूर्वी भागों में हल्की से मध्यम तथा एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है।

इस दौरान राजसमंद, कोटा, बराल, झालावाड़, चित्तौरगढ़, भिलवाड़ा, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, सिरोही और पाली में अच्छी बारिश देखने को मिल सकती है। वहीं अगले 2 से 3 दिनों के दौरान राज्य के अन्य हिस्सों में हल्की व छिटपुट बारिश होने के आसार हैं।

वहीं कल यानि सोमवार की सुबह 08:30 बजे से अब तक वनस्थली में 17.2 मिलीमीटर, जयपुर में 4.1 मिमी, पिलानी में 1.1 मिमी बारिश दर्ज की गयी है। इसके अलावा बाड़मेर में भी बारिश की फुहारें देखने को मिली हैं।

बारिश की इन गतिविधियों के कारण राज्य में चल रही बारिश की कमी के आंकड़ों में थोड़ा सुधार हुआ है।

स्काइमेट में 1 जून से 17 जून तक उपलब्ध बारिश के आंकड़ों के अनुसार, राजस्थान में 10 जून तक 93% कम बारिश दर्ज की गयी। हालांकि बीते दिनों हुई बारिश से यह आंकड़ा घटकर 66% तक पहुँच गया है। इसके अलावा पूर्वी राजस्थान में यह आंकड़ा 51% तक पहुंच गया है।

Also Read In English: Probable low pressure area in Southeast Rajasthan to give rain in Kota, Udaipur and Pali

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, राजस्थान में हो रही प्री-मॉनसून बारिश के कारण बारिश की कमी के अलावा तापमान में भी सुधार देखने को मिला है। जहां कल यानि 17 जून को राजस्थान के अधिकांश इलाकों के अधिकतम तापमान में 3 से 5 डिग्री सेल्सियस की कमी दर्ज की गयी है। इसके अलावा बारिश के कारण यहां प्रभावी भीषण लू से भी काफी राहत मिली है।

Image Credit: DNA India

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें ।







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories





latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×