Skymet weather

[Hindi] पटना, गया, रांची, जमशेदपुर में कल से अच्छी वर्षा; बिहार में 2 अक्तूबर से भारी बारिश

September 26, 2017 7:13 PM |

Rain in Bihar

बिहार और झारखंड में फिर से मॉनसून वर्षा की वापसी हो रही है। अगले 24 घंटों में दोनों राज्यों में बारिश की गतिविधियां शुरू होंगी और सितंबर की विदाई तक सामान्य मॉनसून बौछारें जारी रह सकती हैं। पूर्वी भारत के इन प्रदेशों में अब तक सामान्य के आसपास वर्षा हो चुकी है और आने वाले दिनों में संभावित बारिश से आंकड़ों में और सुधार होगा। बिहार के उत्तर और पूर्वी हिस्सों में 2-4 अक्टूबर के बीच भारी वर्षा भी हो सकती है।

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार मॉनसून की अक्षीय रेखा का पूर्वी सिरा बिहार और झारखंड होते हुए गुज़र रहा है। इसके अलावा पूर्वी भारत पर एक चक्रवाती सिस्टम भी विकसित हो गया है। इन सिस्टमों को बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम से मदद मिलेगी जिससे बिहार और झारखंड के लिए एक सप्ताह से भी लंबा रेनी सीज़न कल से शुरू हो रहा है।

रांची, जमशेदपुर, डाल्टनगंज, धनबाद, गुमला, लोहरदगा, हज़ारीबाग, बोकारो, गया, पटना, भागलपुर, औरंगाबाद, बेगूसराय, नवादा, किशनगंज, कटिहार, पुर्णिया, अररिया, सुपौल, मधुबनी, सीतामढ़ी मोतीहारी सहित दोनों राज्यों में 27 सितंबर को कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम मॉनसून वर्षा दर्ज की जाएगी। इन भागों में 28 सितंबर से वर्षा बढ़ सकती है और अगले 3-4 दिनों तक कई स्थानों पर मध्यम बौछारें देखने को मिल सकती हैं। बिहार व झारखंड में गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Lightning in UP, Bihar and Jharkhand

बिहार के उत्तर-पूर्वी हिस्सों में 2 अक्टूबर से मॉनसून व्यापक रूप में सक्रिय हो सकता है। राज्य के तराई और पूर्वी भागों विशेषकर भागलपुर, किशनगंज, अररिया, पुर्णिया, सुपौल दरभंगा, मोतीहारी, सितामढ़ी और मोतीहारी में 2-4 अक्टूबर के बीच कई स्थानों पर मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना है। इस दौरान झारखंड के पूर्वी हिस्सों में भी कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

[yuzo_related]

आगामी बारिश से बारिश के आंकड़ों में सुधार निश्चित तौर पर होगा लेकिन चिंता यह भी है कि बिहार के उत्तर और पूर्वी हिस्सों में बारिश के साथ बिजली गिरने की घटनाएँ भी हो सकती हैं। गौरतलब है कि इस क्षेत्र में बिजली गिरने से अनेकों लोगों और मवेशियों की बेवजह मौत हो जाती है। इन आशंकाओं के बीच किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए लोगों को बारिश के दौरान खुले में निकलने से बचना चाहिए।

बिहार में 1 जून से 26 सितंबर तक 927 मिलीमीटर बारिश हुई है जो सामान्य से 8 प्रतिशत कम है और झारखंड में सामान्य से 9 फीसदी कम 965 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।

Image credit:

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 








For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×