>  
[Hindi] लखनऊ, पटना, रांची में हुई बारिश; मॉनसून के आने तक रुक-रुक कर होगी प्री-मॉनसून वर्षा

[Hindi] लखनऊ, पटना, रांची में हुई बारिश; मॉनसून के आने तक रुक-रुक कर होगी प्री-मॉनसून वर्षा

06:00 PM

 Rain in Varanasi

पूर्वी भारत के राज्यों बिहार और झारखंड में आमतौर पर अब तक मॉनसून का आगमन हो जाता है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के भी कुछ इलाके मॉनसूनी फुहारों में भीगने लगते हैं। इस वर्ष मॉनसून अब तक पश्चिम बंगाल पहुंचा है लेकिन बिहार और झारखंड सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश को अभी इंतज़ार करवाएगा। 28 मई को केरल में दस्तक देने के बाद मॉनसून की प्रगति अच्छी रही और मध्य भारत के अलावा पूर्वोत्तर भारत में भी पहुँच गया। लेकिन अब मॉनसूनी हवाएँ कमज़ोर हुई हैं जिससे अनुमान है कि लगभग एक सप्ताह तक मॉनसून आगे नहीं बढ़ेगा और देश के बाकी भागों में मॉनसून के आने बढ़ने में देरी हो सकती है।

इस बीच पूर्वी भारत के राज्यों में रुक-रुक कर प्री-मॉनसून हलचलें देखने को मिल रही हैं। इस समय पंजाब से बिहार तक तराई क्षेत्रों में एक ट्रफ बनी हुई है। इस ट्रफ के प्रभाव से बंगाल की खाड़ी से आर्द्र हवाएँ चल रही हैं जिससे पूर्वी उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्रों, बिहार और दक्षिणी झारखंड में अगले दो-तीन दिनों के दौरान गरज और आँधी-तूफान के साथ हल्की वर्षा जारी रहने की संभावना है। कुछ क्षेत्रों में मध्यम बौछारें भी गिर सकती हैं। इलाहाबाद, मिर्ज़ापुर, चित्रकूट, बांदा सहित दक्षिण-पूर्वी उत्तर प्रदेश और उत्तरी झारखंड में भी इस दौरान छिटपुट वर्षा देखने को मिल सकती है।

Related Post

तीनों राज्यों में पिछले 24 घंटों के दौरान भी कुछ स्थानों पर हल्की जबकि कहीं-कहीं मध्यम बारिश दर्ज की गई है। चाइबासा में 36 मिमी की भारी वर्षा हुई। वाराणसी में 17.8 मिमी, बोकारो में 17.2 मिमी, गोरखपुर में 7.2 मिमी, पटना में 7 मिमी, जमशेदपुर में 4.4 मिमी, लखनऊ और भागलपुर में 2 मिमी, इलाहाबाद में 1 मिमी वर्षा हुई। रांची में भी हल्की बारिश दर्ज की गई। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

lightning in up bihar

कुछ स्थानों पर बारिश के बावजूद इन राज्यों में दिन का तापमान सामान्य से ऊपर रिकॉर्ड किया जा रहा है। लखनऊ, पटना और रांची में पारा सामान्य से 3-4 डिग्री ऊपर चल रहा है। अगले दो-तीन दिनों के दौरान इन भागों में होने वाली बारिश के बाद भी तापमान में विशेष गिरावट के आसार नहीं हैं। इसके अलावा बढ़ी उमस के चलते मौसम और परेशान करेगा।

Image credit: DNA India

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।