>  
[Hindi] वैष्णो देवी में अगले 2-3 दिन हो सकती है बारिश, राह में नहीं होंगी बड़ी मुश्किलें

[Hindi] वैष्णो देवी में अगले 2-3 दिन हो सकती है बारिश, राह में नहीं होंगी बड़ी मुश्किलें

04:40 PM

Rain in Vaishno_Deviवैष्णो देवी के दर्शन के लिए आमतौर पर मार्च का महीना अनुकूल होता है। इस समय जहां मैदानी राज्यों में सर्दी की विदाई होती है और गर्मी अपना असर दिखने लगती है वहीं सुहावने मौसम के चलते उत्तर के पहाड़ों पर बसा देवी का यह पवित्र धाम श्रद्धालुओं को बरबस अपनी ओर आकर्षित करता है। इसके अलावा रुक-रुक कर बारिश और हल्की बर्फबारी का मौसम भी सैलानियों में रोमांच बन जाता है।

पिछले कुछ दिनों से वैष्णो देवी में जारी शुष्क मौसम के बाद अब परिदृश्य अनुकूल बदल रहा है। उम्मीद है कि अगले 2-3 दिनों के दौरान वैष्णो देवी सहित जम्मू कश्मीर में कुछ स्थानों पर गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की जाएगी। बादल आज से ही दिखेंगे और शाम से कुछ गतिविधियां भी शुरू हो सकती हैं। इस समय कटरा में दिन में तापमान 25 डिग्री के आसपास चल रहा है। इसमें बारिश के चलते अगले 2-3 दिनों के दौरान गिरावट दर्ज की जाएगी।

Related Post

जम्मू कश्मीर के उत्तरी भागों पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। इसके प्रभाव से मध्य पाकिस्तान पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र भी विकसित हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ धीरे-धीरे पूर्वी दिशा में निकल जाएगा। हालांकि गतिविधियां 15 मार्च तक जारी रहेंगी क्योंकि एक नया पश्चिमी विक्षोभ कल कश्मीर के करीब पहुंचेगा जिससे बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Lightning in Jammu and Kashmir 600

आगामी सिस्टम इस समय उत्तरी अफगानिस्तान तथा इससे सटे पाकिस्तान पर है और अपेक्षाकृत अधिक प्रभावी है। इसके चलते 14 और 15 मार्च को कटरा सहित भवन पर भी हल्की से मध्यम वर्षा होगी। बर्फबारी की संभावना फिलहाल कम है। इसलिए माना जा सकता है कि तीर्थयात्रियों की राह में मुश्किलें अधिक नहीं होंगी। हालांकि अगर आप बारिश के दौरान चढ़ाई करेंगे तो सतर्क रहने की ज़रूरत होगी।

इस सप्ताह के आखिर में यानि शुक्रवार से रविवार तक मौसम पूरी तरह से शुष्क और साफ रहने की संभावना है। इसलिए अगर आपको बारिश के समय जाने में परेशानी है तो सप्ताह की छुट्टियों में वैष्णो देवी के दर्शन के लिए प्रस्थान कर सकते हैं।

Image credit: The Indian Express

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।