>  
[Hindi] राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश में बारिश के आसार

[Hindi] राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश में बारिश के आसार

03:15 PM

Udaipur-Mansoon-destination--Loyal Tours and Travels 600

उत्तर भारत के सभी भागों से मॉनसून वापस लौट चुका है। सितंबर के आखिरी सप्ताह से ही सभी राज्यों में मौसम सूखा है, जिससे तापमान में लगातार वृद्धि हुई है और लोगों को गर्मी का सामना करना पड़ रहा है। इसे सर्दी के आगमन से पहले की गर्मी का एक और दौर माना जा रहा है। अगले कुछ दिनों तक यानि 8-9 अक्टूबर तक इसमें बदलाव की उम्मीद भी नहीं है। यहाँ तक कि पश्चिमी राजस्थान के कई शहरों में दिन का तापमान 40 डिग्री के स्तर पर पहुँच गया है। पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शहरों में भी पारा 35 डिग्री के आसपास रिकॉर्ड किया जा रहा है।

उत्तर भारत में 9 अक्टूबर से बदलेगा मौसम

इस बीच स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों का आंकलन है कि उत्तर भारत के इस मौसम में 9 अक्टूबर से बदलाव आने की संभावना है। इस समय अरब सागर पर एक मौसमी सिस्टम विकसित हो रहा है जो अगले 2-3 दिनों में चक्रवाती तूफान बन सकता है। इसे ‘लुबान’ नाम दिया जाएगा और शुरुआती अनुमान है कि यह ओमान की ओर जाएगा। लेकिन इसके प्रभाव से अरब सागर से उठने वाली दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ उत्तर भारत तक पहुंचेगी। इसके अलावा इसी दौरान जम्मू कश्मीर के पास एक नया पश्चिमी विक्षोभ भी आएगा।

इन दोनों सिस्टमों का असर उत्तर-पश्चिम भारत के राज्यों के मौसम पर भी 9 अक्टूबर से दिखाई देने लगेगा। बादल इसी समय से समूचे उत्तर भारत में दिखाई देने लगेंगे। बारिश की शुरुआत 9 अक्टूबर से पंजाब के उत्तरी भागों से होगी। पंजाब के बाकी हिस्सों में भी 10 से 12 अक्टूबर के बीच हल्की बारिश होने की संभावना है। हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक-दो स्थानों पर वर्ष देखने को मिलेगी।

राजस्थान में कई जगहों पर बारिश

इस बदलाव से सबसे अधिक फ़ायदा राजस्थान को होगा जहां अभी गर्मी सबसे ज़्यादा परेशान कर रही है। स्काइमेट के अनुसार राजस्थान के सभी भागों में 9 से 12 अक्टूबर के बीच गर्जना के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। बारिश की तीव्रता इस दौरान समूचे उत्तर भारत में बहुत अधिक नहीं रहेगी लेकिन गर्मी से व्यापक राहत मिलेगी और मौसम सुहावना हो जाएगा।

अरब सागर में उठ रहा तूफान जाएगा ओमान

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार अरब सागर में संभावित चक्रवाती तूफान की दिशा के उत्तर-पश्चिमी रहने के संकेत हैं। लेकिन ऐसा भी देखा गया है कि अरब सागर से उठा और ओमान या यमन के करीब पहुंचा चक्रवाती तूफान अपनी दिशा बदलकर गुजरात या पाकिस्तान की ओर भी पहुंचा है।

स्काइमेट के वरिष्ठ मौसम विशेषज्ञ एवीएम जीपी शर्मा के मुताबिक इस तूफान के ओमान जाने की संभावना 80 प्रतिशत है जबकि गुजरात की ओर आने के आसार महज़ 20 प्रतिशत हैं। हालांकि अगर यह गुजरात की ओर आता है तो गुजरात से लेकर समूचे उत्तर भारत में 12 से 15 अक्टूबर के बीच भारी बारिश देखने को मिलेगी।

Image credit:

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।