>  
[Hindi] होली पर बारिश में भी भीगेंगे कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड के लोग

[Hindi] होली पर बारिश में भी भीगेंगे कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड के लोग

05:00 PM

.Snow in Shimla

 

 

 

 

 

 

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड सहित जम्मू कश्मीर के सभी हिस्से बारिश और बर्फबारी का नया दौर देखने को मिल रहा है। स्काईमेट के अनुसार, एक पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी भागों पर आ रहा है, जिसके कारण तीनों पर्वतीय राज्यों में 19 मार्च से बारिश शुरू हो जाएगी।

स्काइमेट के पूर्वानुमान के मुताबिक सोमवार की शाम को उत्तराखंड के हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की गयी है। कुमाऊं के मुक्तेश्वर में सोमवार सुबह 8:30 बजे के बाद पिछले 24 घंटो के दौरान 1 मिमी की हल्की बारिश हुई। अब इन भागों में गतिविधियां बढ़ सकती हैं क्योंकि पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर के और करीब आ रहा है।

अगले 24 घंटो के दौरान जम्मू-कश्मीर में हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। जबकि हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कुछ स्थानों पर बारिश देखने को मिल सकती हैं। वैष्णो देवी मंदिर और के इलाकों में भी ठंडी हवाओ के साथ अच्छी बारिश हो सकती है।

Read In English : Rain in Vaishno Devi, Srinagar, Leh, Manali and Shimla, snowfall in higher reaches

साल के इस समय में पश्चिमी विक्षोभ अक्सर कमजोर होते हैं इसलिए बर्फ़बारी इन पहाड़ी राज्यों के ऊपरी क्षेत्रो तक ही सीमित रहेगी।

मौसमी चेतावनी : अगले 48 घंटो में अनंतनाग, बडगाम, बांदीपोर, बारामूला, अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, देहरादून, गढ़वाल, हरद्वार, नैनीताल, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी गढ़वाल, ऊधमसिंह नगर और उत्तरकाशी, डोडा, गांदरबल, जम्मू, कारगिल, कारगिल, जम्मू, कारगिल , बिलासपुर, चंबा, हमीरपुर, कांगड़ा, किन्नौर, कुल्लू, लाहौल और स्पीति, मंडी, शिमला, सिरमौर, सोलन, कुपवाड़ा, लेह (लद्दाख), पुलवामा, पंच, राजौरी, रामबन, रियासी, सांबा, शुपियान, श्रीनगर और उधमपुर में गरज़ और तेज़ हवा के साथ बारिश और बर्फ़बारी होने की उम्मीद है।

इसके अलावा उत्तरी भारत के पहाड़ी इलाकों में 21 मार्च तक बारिश जारी रह सकती है। इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ जाने के कारण पश्चिमी हिमालय में गरज़ और बारिश की गतिविधियां कम हो सकती है।

इन बर्फ़बारी और बारिश की घटनाओ के कारण उत्तरी भारत के तीनो राज्यों में अगले कुछ दिनों तक मौसम सर्द बना रहेगा।

रुक-रुक कर हो रही गरज के साथ बारिश और बर्फबारी का सिलसिला 21 मार्च तक जारी रहेगा। हालांकि बर्फबारी ऊपरी हिस्सों तक ही सीमत रहेगी। इस अवधि के दौरान, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में एक से दो स्थानों में मध्यम से भारी बौछारें पड़ने की संभावना नहीं है। हालांकि, उत्तराखंड राज्य में हल्की बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर मध्यम बारिश हो सकती है।

पहलगाम, कोकेरनाग, श्रीनगर, लेह, जम्मू, उधमपुर, कुल्लू, मनाली, किन्नौर, स्पीति, बिलासपुर, शिमला, उत्तरकाशी, देहरादून, टिहरी, नैनीताल और चमोली जैसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल बारिश और हिमपात के गवाह बनेंगे।

जैसा कि अब हम मार्च के तीसरे सप्ताह में हैं, पश्चिमी विक्षोभ की आवृत्ति कम हो जाती है और केवल कमज़ोर सिस्टम ही इस क्षेत्र में पहुँचते हैं। कमजोर होने के कारण, भारी बर्फबारी की संभावना कम हो जाती है और पूरे क्षेत्र में केवल गरज के साथ होने वाली बारिश की गतिविधियों का अनुभव होता है। हालांकि, ऊपरी हिस्सों में हल्की बर्फबारी होती रहती है।

Image Credit:en.wikipedia.org

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

We do not rent, share, or exchange our customers name, locations, email addresses with anyone. We keep it in our database in case we need to contact you for confirming the weather at your location.