>  
[Hindi] पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल में अगले 24 घंटों तक होगी बारिश; उसके बाद बढ़ेगी सर्दी

[Hindi] पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, बंगाल में अगले 24 घंटों तक होगी बारिश; उसके बाद बढ़ेगी सर्दी

03:08 PM

West-bengal rain_The Indian Express 600पूर्वी भारत के राज्यों में पिछले 48 घंटों से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। इस समय बिहार से छत्तीसगढ़ तक एक ट्रफ बनी हुई है। इसके प्रभाव से बंगाल की खाड़ी से आर्द्र हवाएँ पूर्वी भारत के राज्यों में आ रही हैं। स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि बारिश का सिलसिला अगले 24 घंटों तक पूर्वी और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में बना रहेगा। उसके बाद बारिश की गतिविधियां काफी कम हो जाएंगी। 10 फरवरी की शाम से मौसम साफ हो जाएगा।

अनुमान है कि 9 फरवरी की शाम तक पूर्वी भारत में बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और आसपास के भागों में वर्षा जारी रहेगी। खास बारिश उत्तरी बिहार में किशनगंज, सुपौल, अररिया, पुर्णिया, भागलपुर के अलावा उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी, जलपाईगुड़ी सहित सिक्किम में देखने को मिलेगी। जबकि झारखंड, पूर्वी बिहार, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, ओड़ीशा और गंगीय पश्चिम बंगाल में इस दौरान छिटपुट वर्षा के ही आसार हैं।

पूर्वी भारत और इससे सटे मध्य भारत के भागों में बादल छाए रहने और पिछले दो-तीन दिनों से बारिश होने के कारण दिन के तापमान में काफी गिरावट आई है। कई स्थानों पर दिन का तापमान सामान्य से नीचे चल रहा है। पिछले 24 घंटों में गोरखपुर में 24 मिलीमीटर, पुर्णिया में 18, गया में 16, छपरा में 13, रांची में 13, जमशेदपुर में 7 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई। इसके अलावा उत्तरी पश्चिम बंगाल में भी कई स्थानों पर भारी वर्षा हुई है। कोलकाता में छिटपुट बारिश हुई है।

बारिश बंद होने के बाद कल से पूर्वी भारत के अधिकांश इलाकों में आसमान साफ हो जाएगा। धीरे-धीरे उत्तर-पश्चिमी हवाएँ रफ्तार पकड़ेंगी। तेज़ धूप खिलने से दिन का मौसम सुहावना हो जाएगा जबकि ठंडी हवाओं के कारण सुबह और रात के तापमान में गिरावट होगी और मौसम एक बार फिर से ठंडा हो जाएगा।

Image credit: The Indian Express

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 

We do not rent, share, or exchange our customers name, locations, email addresses with anyone. We keep it in our database in case we need to contact you for confirming the weather at your location.