>  
[Hindi] दिल्ली में प्रदूषण से बड़ी राहत; हवा की गुणवत्ता में सुधार के चलते दृश्यता भी होगी बेहतर

[Hindi] दिल्ली में प्रदूषण से बड़ी राहत; हवा की गुणवत्ता में सुधार के चलते दृश्यता भी होगी बेहतर

03:24 PM

Delhi and pollutionदिल्ली में प्रदूषण को लेकर स्काइमेट ने गंभीर अध्ययन और आंकलन करने के बाद अनुमान लगाया था कि राजधानी में नवंबर के दूसरे पखवाड़े से वातावरण साफ होगा और प्रदूषण से राहत मिलेगी। जैसा आंकलन किया गया था परिस्थितियाँ वैसी ही बनीं और पिछले 4-5 दिनों से देश की राजधानी में लोग चैन की सांस ले रहे हैं। दिल्ली और इससे सटे शहरों में 15 नवंबर तक प्रदूषण अपने चरम पर था जिससे आपातकाल जैसे हालात बन गए थे और हेल्थ इमरजेंसी लागू की गई थी।

दिल्ली के प्रदूषण को लेकर सोशल मीडिया पर विभिन्न तरह के जोक बन रहे थे और कई देश दिल्ली आने वाली हवाई उड़ानों को स्थगित करने के बारे में विचार कर रहे थे। यहाँ तक कि अमरीका स्थित यूनाइटेड एयरलाइन्स ने दिल्ली की अपनी उड़ानें 11 नवंबर को स्थगित कर दी थीं। हालांकि एयरलाइन्स ने कहा था कि स्थिति में सुधार देखते ही वह न्यूयॉर्क-दिल्ली के बीच उड़ान सेवा बहाल कर देगी।

Related Post



15 दिनों से दिल्ली में छाए काले बादल पिछले सप्ताह की शुरुआत से ही छंटने लगे जब हवा तेज़ हुई तो जहरीले प्रदूषण के कण और गैसें भी साफ हो गईं। दिल्ली तथा आसपास के भागों में 15 नवंबर से हवा की गुणवत्ता में व्यापक सुधार शुरू हुआ जो आने वाले दिनों में भी जारी रहेगा। इस समय राजधानी दिल्ली के साथ-साथ नोएडा, गाज़ियाबाद, फ़रीदाबाद और गुरुग्राम में 10 से 15 किलोमीटर प्रतिघण्टे की गति से उत्तर-पश्चिमी शुष्क और ठंडी हवाएँ चल रही हैं, जो अगले 2-3 दिनों तक जारी रहेंगी।

इन मौसमी स्थितियों के बीच हमारा अनुमान है कि आने वाले 3-4 दिनों तक दिल्ली की हवा में प्रदूषण के कण कम रहेंगे और दिल्ली वाले खुलकर साँस ले सकेंगे। तेज़ हवाओं के चलते धुंध और कोहरा भी नहीं दिखेगा और दृश्यता बेहतर होगी जिससे सड़क, रेल या हवाई यातायात में कोई कठिनाई नहीं होगी।

हवा की गुणवत्ता यानि एयर क्वालिटी इंडेक्स की बात करें तो इस समय दिल्ली में यह 292, नोएडा में 259, फ़रीदाबाद में 228, गाज़ियाबाद में 340 और गुरुग्राम में 327 है। हालांकि पिछले दिनों के मुक़ाबले हवा भले ही साफ हो गई है, लेकिन प्रदूषण के कण अभी भी हवा में मौजूद हैं जो नुकसान पहुंचा सकते हैं। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गाज़ियाबाद में पीएम 2.5 अभी भी काफी ऊपर है जिससे यहाँ हवा की गुणवत्ता खराब बनी हुई है।

Image credit: News18.com

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।