Skymet weather

[Hindi] वैष्णो देवी, श्रीनगर, शिमला में पड़ी बर्फ; उत्तर भारत में शीतलहर की दस्तक

December 13, 2018 5:00 PM |

Snowfall in Jammu and Kashmir_Scroll 600

उत्तर भारत के पहाड़ों पर लंबे इंतजार के बाद व्यापक बारिश और बर्फबारी का नजारा देखने को मिला है। इससे न सिर्फ समूचे पहाड़ों पर बल्कि उत्तर के मैदानी राज्यों से होकर मध्य भारत भागों तक कड़ाके की ठंडक आएगी। कुछ इलाकों में जल्द ही शीतलहर जैसे हालात बन सकते हैं। नवंबर में शुरुआत में दो-तीन तारीख को और उसके बाद 12 और 13 नवंबर को जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में अच्छी बर्फबारी हुई थी। उसके बाद से तीनों पहाड़ी राज्यों के अधिकांश भागों में मौसम शुष्क बना हुआ था।

बारिश और बर्फबारी के इस दौर में शिमला और वैष्णो देवी जैसे दक्षिणी भागों में भी बर्फबारी का नजारा देखने को मिला। अधिकांश भागों में हो रही बारिश और बर्फबारी के कारण जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कई इलाकों में तापमान में भारी गिरावट आ गई है। न्यूनतम तापमान में अगले दो-तीन दिनों के दौरान कुछ और गिरावट होने की संभावना है क्योंकि बर्फीली हवाएं चलना शुरू होगी इससे पहाड़ों पर कई इलाके शीतलहर की चपेट में आ जाएंगे।

फिलहाल बारिश और बर्फबारी देने वाला सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ अब जम्मू कश्मीर के पूर्वी भागों पर पहुंच गया है जिससे फिलहाल जम्मू कश्मीर में अधिकांश भागों में मौसम शांत हो जाएगा। हिमाचल प्रदेश में छिटपुट जगहों पर और उत्तराखंड में कुछ स्थानों पर अगले 24 घंटों तक वर्षा या बर्फबारी जारी रह सकती है। बृहस्पतिवार को वैष्णो देवी सहित जम्मू, श्रीनगर, शिमला, धर्मशाला, हमीरपुर, देहरादून, हरिद्वार और ऋषिकेश सहित कई शहरों में न्यूनतम तापमान में 3 से 5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट हुई है।

शिमला में पारा शून्य से भी नीचे पहुंच गया है जो सामान्य मौसमी घटना नहीं है क्योंकि आमतौर पर इस समय शिमला का तापमान 5 से 6 डिग्री के बीच रहता है जो अब सामान्य से 4-5डिग्री नीचे चला गया है। कल शिमला में अधिकतम तापमान सामान्य से 11 डिग्री कम 3.8 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया। अगले 48 घंटों के दौरान पारा और गिरेगा जिससे अधिकांश इलाके कड़ाके की सर्दी की चपेट में आ जाएंगे।

इस सप्ताह के आखिर में अगर आप वैष्णो देवी, केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री जैसे पवित्र तीर्थ स्थलों के भ्रमण पर निकलने की तैयारी में हैं तो निकलते समय ध्यान रखें कि आप को इन स्थानों पर भीषण सर्दी से मुक़ाबला करना होगा। इसलिए पूरी तैयारी से जाएं। हालांकि इस सप्ताह की छुट्टियों में यानी 14 दिसम्बर के बाद अगले तीन-चार दिनों तक पहाड़ों पर ताजा बर्फबारी या बारिश का नज़ारा नहीं दिखेगा।

Image credit:

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 


For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
Low Pressure in Bay coming up, rains over East, Central and Konkan region to revive. t.co/89YPkUapWA
Tuesday, July 23 17:46Reply
#MadhyaPradesh: #Rain and #thundershowers is likely to affect Katni, Rewa, Satna, Siddhi, Shahdol and Umaria during next 2-4 hours.
Tuesday, July 23 17:06Reply
अगले 24 घंटों के दौरान, असम, मेघालय, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम सहित बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के भागों… t.co/3b4rwi0A9y
Tuesday, July 23 16:48Reply
Nowcast for #MumbaiRains: Short spell intense shower would occur over Navi Mumbai, Lonavala, Vashi and Panvel durin… t.co/jygUYgW6KE
Tuesday, July 23 16:23Reply
#MumbaiRains: #Rain has begun in #Vashi, expect more parts of #Mumbai and Navi Mumbai to see rains t.co/IMCS5oZiNd
Tuesday, July 23 16:17Reply
#MumbaiRains are likely during the next 24 hours, intense rains may be seen in pockets. t.co/yEr3PYxcou
Tuesday, July 23 16:05Reply
Alert: Short spell of #rain and #thundershowers with gusty winds will occur at some parts of #Noida during next 2-3 hours.
Tuesday, July 23 15:59Reply
Alert: Short spell of intense #rains likely in some parts of #Pune, #Raigad and #Thane during next 1-2 hours
Tuesday, July 23 15:58Reply
#DelhiRains: The intensity and spread of #rain is likely to increase by tomorrow, July 24. #Delhi t.co/dGJ48j7JjH
Tuesday, July 23 15:44Reply
Moderate to heavy with very isolated heavy #rains can be seen over parts of #Assam, #Meghalaya, Sub-Himalayan… t.co/ZR2c88Q1xd
Tuesday, July 23 15:22Reply

latest news

USAID Skymet Partnership

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try