[Hindi] पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और दिल्ली में मॉनसून की देरी के चलते मौसम रहेगा शुष्क और गर्म

June 25, 2019 7:11 PM |

Dry weather of Delhi

पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत राजस्थान के कुछ भागों में बीते 24 घंटों में धूलभरी आंधी के साथ हल्की से मध्यम बारिश देखने को मिली है। वहीं दूसरी ओर दिल्ली में आसमान में बादल छाये रहे। लेकिन बारिश नहीं हुई और मौसम सुहावना बना रहा।

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में अगले 24 घंटों तक मौसम में कुछ हलचल देखने को मिल सकती है। इस दौरान इन राज्यों में धूलभरी आंधी चलने और गरज के साथ हल्की बारिश होने के आसार हैं। इसके बाद उत्तर-पश्चिमी मैदानी भागों में मौसम पूर्णतः शुष्क हो जायेगा। इन इलाकों में मौसम शुष्क होने के बाद तापमान में बढ़ोत्तरी होगी और कुछ स्थानों पर लू जैसी स्थितियां देखने को मिल सकती हैं।

स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में इस बार दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून के आगमन में देरी हो सकती है। इसके अलावा जून के अंत तक भारत के मैदानी भागों का मौसम शुष्क ही बना रहेगा। इसके बाद 1 जुलाई के आस-पास दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र समेत उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में बारिश होने की उम्मीद है।

इसके बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब समेत दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र के एक-दो स्थानों में गरज़ के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं। जिससे यहां के लोगों को गर्म मौसम के साथ लू से भी राहत मिलेगी।

Also Read In English: Weather in Punjab, Haryana, Rajasthan, West Uttar Pradesh to go dry and hot, Monsoon to be delayed

बारिश की इन गतिविधियों से मॉनसून का आगमन रफ्तार पकड़ेगा। हालांकि जुलाई के पहले हफ्ते के दौरान मौसम सुहावना होने के साथ पूर्वी हवाएं बहने के बावजूद बारिश में कोई विशेष बढ़ोत्तरी देखने को नहीं मिलेगी।

Image Credit: skymetweather.com

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें ।







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories





latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×