>  
[Hindi] आगरा, मेरठ, लखनऊ में हुई बारिश, वाराणसी, गोरखपुर में कल बरसेंगे बादल

[Hindi] आगरा, मेरठ, लखनऊ में हुई बारिश, वाराणसी, गोरखपुर में कल बरसेंगे बादल

07:18 PM

Agra Rain_Rain Taj Mahalउत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में मंगलवार की सुबह से ही बादल छाए हुए हैं। मेरठ, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, हाथरस, आगरा, फ़िरोज़ाबाद, नोएडा और गाजियाबाद में मंगलवार को बारिश भी देखने को मिली। आगरा सहित आसपास के भागों और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों में बारिश की गतिविधियां आज रात्रि या कल सुबह तक देखने को मिल सकती हैं। बिजनौर, मुरादाबाद, सहारनपुर, रामपुर, बरेली, एटा, कानपुर में भी बारिश रिकॉर्ड की गई है।

राजधानी लखनऊ सहित राज्य के मध्य भागों बरेली, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, बहराइच, बाराबंकी, हरदोई, गोंडा, रायबरेली, फ़ैज़ाबाद, बस्ती में भी आज रात से बारिश शुरू हो सकती है। इन भागों में कल दिन में भी बादल छाए रहेंगे और हल्की वर्षा देखने को मिल सकती है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश की गतिविधियां कल से संभावित हैं। हालांकि इलाहाबाद, बांदा और मिर्ज़ापुर जैसे दक्षिण-पूर्वी जिलों में मौसम शुष्क ही रहेगा।

Related Post

उत्तर भारत में जम्मू कश्मीर के पास बने पश्चिमी विक्षोभ और इसके प्रभाव से मैदानी क्षेत्रों पर विकसित हुए चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र के चलते राज्य में बारिश हो रही है। मौसमी विशेषज्ञों का अनुमान है कि चक्रवाती सिस्टम क्रमशः पश्चिम से मध्य और फिर पूर्वी जिलों की ओर बढ़ेगा। यही कारण है कि जहां पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आज बारिश हुई वहीं मध्य भागों में आज रात से और पूर्वी भागों में कल से वर्षा के आसार हैं। उत्तर प्रदेश में गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

 

Himachal Pradesh and Uttarakhand Lightning

मौसम सिस्टम के आगे बढ़ने के कारण पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 25 जनवरी से मौसम साफ हो जाएगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश में 26 जनवरी से मौसम के साफ होने के आसार हैं। इस बीच बदले मौसम ने लोगों को लंबे समय से कोहरे की मार से राहत दे दी है। हालांकि बारिश और बादल छाने के चलते दिन के तापमान में गिरावट और रात के तापमान में वृद्धि दर्ज के गई है।

इस मौसम में 25 जनवरी से फिर से बदलाव आएगा और उत्तर पश्चिमी हवाएँ तेज़ होंगी जिससे उत्तर प्रदेश में न्यूनतम तापमान एक बार नीचे का रुख करेगा और कड़ाके की ठंड का कारण बनेगा।

Image credit: BBC

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।