[Hindi] दिल्ली प्रदूषण फिर हुआ बेहद ख़तरनाक; कल से गिरेगा पारा लेकिन प्रदूषण ने राहत नहीं

January 13, 2019 1:17 PM |

Delhi_smog_pollution-The Wire 600

राजधानी दिल्ली में हवा बदलते ही मौसम का मिजाज़ भी बदल जाता है। रविवार को न्यूनतम तापमान कल के मुक़ाबले 2 डिग्री बढ़ गया और 9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। रविवार को ना सिर्फ तापमान में बढ़ोतरी हुई बल्कि प्रदूषण भी फिर से बेहद ख़राब श्रेणी में पहुँच गया। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार पंजाब के पास बने चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र के चलते दिल्ली और एनसीआर के शहरों पर ऊंचे बादल छाए रह सकते हैं हालांकि इन से बारिश होने की संभावना बेहद कम है।

अनुमान है कि आज शाम तक दक्षिण-पूर्वी हवाएं चलती रहेंगी। लेकिन रात से उत्तर-पश्चिमी ठंडी और शुष्क हवाएँ फिर से चलनी शुरू होंगी जिससे आज रात से तापमान नीचे आएगा। यह बदलाव जम्मू कश्मीर के पास बने पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ जाने के कारण देखने को मिलेगा, जब पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी की ठंडक लेकर उत्तर पश्चिमी हवाएं दिल्ली सहित उत्तर भारत के मैदानी राज्यों में पहुँचेंगी।

इसके चलते 14 से 16 जनवरी के बीच यानि अगले दो-तीन दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान 3 से 4 डिग्री तक कम हो जाएगा और यह 5-6 डिग्री के बीच रिकॉर्ड किया जाएगा। इससे अनुमान है कि एक बार फिर से शीतलहर जैसे हालात बन सकते हैं। हालांकि 5 डिग्री से नीचे जाने की संभावना नहीं है। दूसरी तरफ दिन में खिली धूप की अपेक्षा है जिससे सुबह और रात की सर्दी ज़्यादा समय तक परेशान नहीं करेगी।

दूसरी ओर 16 जनवरी को एक नया पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर के पास आता दिखाई दे रहा है। इसके कारण 17 जनवरी से उत्तरी ठंडी हवाएँ फिर से बाधित होंगी और दिल्ली, नोएडा, गाज़ियाबाद, फ़रीदाबाद, गुरुग्राम में तापमान में हल्की बढ़ोत्तरी के कारण सर्दी फिर से कम हो जाएगी। यानि लुकाछिपी जारी रहेगी।

फिर से बेहद ख़तरनाक हुआ प्रदूषण

बात अगर प्रदूषण की करें तो पिछले 24 घंटों के बढ़ गया था। यही वजह कि रविवार को दिल्ली में लगभग 400 के आसपास पहुंचा। पीएम 2.5 और पीएम 10 के स्तर में अचानक वृद्धि देखने को मिली। दिल्ली विश्वविद्यालय, पीतमपुरा और चाँदनी चौक जैसे कई इलाकों में पीएम 10 का स्तर 400 से भी ऊपर पहुँच गया था।

हवाओं के रुख में रविवार की रात से ही बदलाव होगा जिससे उम्मीद की जा सकती है कि हवा में छाया बेहद ख़तरनाक प्रदूषण कुछ कम होगा। लेकिन मौसम विशेषज्ञों के अनुसार हवा की रफ्तार में बहुत तेज़ी नहीं आएगी जिससे आने वाले दिनों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 350 के आसपास बना रहेगा।

Image credit: The Wire

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
RT @SkymetHindi: फसल खराब होने के मुख्य कारण है, बारिश की अधिकता या कमी या कभी-कभी बारिश का न होना भी है। t.co/CVkxRDbsLq
Sunday, May 26 13:04Reply
RT @SkymetHindi: अगले 24 घंटों के दौरान, सिक्किम, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में गरज के साथ अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्…
Sunday, May 26 13:01Reply
t.co/fHXwEv8JjB राजस्थान का साप्ताहिक मौसम पूर्वानुमान (26 मई- 1 जून), किसानों के लिए फसल सलाह
Sunday, May 26 13:01Reply
Sunday, May 26 13:00Reply
An #earthquake of #magnitude 4.7 on the Richter scale hit parts of #West Bengal and #Jharkhand. t.co/tBMr0CYudW
Sunday, May 26 12:44Reply
Light to moderate #rain and thundershowers along with #heavy showers at isolated places will continue over #Sikkim,… t.co/Wduz5UKIZQ
Sunday, May 26 12:30Reply
On May 25, more than 300 families were left #homeless and forced to take #shelter in relief camps across #Tripura,… t.co/7Gy5uEZjyS
Sunday, May 26 11:45Reply
During the early morning hours on May 26, #Bay Islands witnessed #earthquake.
Sunday, May 26 11:05Reply
Around 10:40 am on May 25, #Durgapur, #Bankura and #Purulia in West Bengal experienced #earthquake. #WestBengal
Sunday, May 26 11:04Reply
Take a look at the other #hottest #places in the country t.co/i8yH6OgGDK
Sunday, May 26 11:00Reply

latest news

USAID Skymet Partnership

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try