[Hindi] बिहार में 54 बच्चों के मौत की वजह बना चिलचिलाती धुप, उमस और लीची

June 14, 2019 10:53 PM |

Bihar

बिहार के मुजफ्फरपुर में संदिग्ध एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) यानी चमकी बुखार के कारण मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 54 हो गई है। मुजफ्फरपुर जिले के श्रीकृष्णा मेडिकल कॉलेज ऐंड हॉस्पिटल में अभी तक 46 बच्चों की मौत हो चुकी है। वहीं केजरीवाल मातृ सदन (केएमएस) में 8 बच्चों की मौत हो चुकी है। गुरुवार तक कुल मिलाकर यह आंकड़ा 54 तक पहुंच गया।

इस साल जनवरी से कुल 179 संदिग्ध एईएस मामले सामने आए हैं। इस बीच यह भी सवाल उठने लगे हैं कि कहीं इन बच्चों की मौत के पीछे लीची तो वजह नहीं है?

क्या है मामला

दरअसल बात यह है कि, गर्मियों के दौरान इस इलाके के गरीब परिवारों से संबंधित बच्चों को आमतौर पर नाश्ते के लिए सुबह से ही लीची खाने को दी जाती है। लीची के बारे में ऐसा कहा जाता है कि, यह फल बच्चों में घातक मेटाबॉलिक बीमारी पैदा करता है, जिसे हाइपोग्लाइसीमिया इंसेफेलोपैथी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें: बिहार में भीषण गर्मी और लू की स्थिति, जून के शुरुआती दौर में मिल सकती है थोड़ी राहत

क्या कहते हैं डॉक्टर

मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक, मौतों के कारणों की जांच के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सात सदस्यीय केंद्र सरकार की टीम मुजफ्फपुर में है। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने दावा किया है कि अधिकांश मौतें हाइपोग्लाइसीमिया (शरीर में अचानक शुगर की कमी) के कारण हुई हैं।

मौसम बना जानलेवा

मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक, डॉक्टरो का कहना है कि, इसके पीछे का कारण इस इलाके में चिलचिलाती गर्मी, नमी और बारिश का न होना है। पहले की रिपोर्टों में कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने एईएस के कारण हो रही इन मौतों के पीछे लीची का होना बताया था। कहा जा रहा था कि मुजफ्फरपुर के आस-पास उगाई जाने वाली लीची में कुछ जहरीले तत्व हैं, जो इस बीमारी और मौतों का कारण हैं।

यह भी पढ़ें: बिहार के पटना, पूर्णिया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, दरभंगा और सुपौल में जारी प्री-मॉनसून बारिश

सुबह नाश्ते में लीची खा रहे हैं कुछ लोग

गर्मियों के दौरान इस इलाके के गरीब परिवारों से संबंधित बच्चों को आमतौर पर नाश्ते के लिए सुबह से ही लीची खाने को दी जाती है। ऐसा माना जाता है कि यह फल बच्चों में घातक मेटाबॉलिक बीमारी पैदा करता है, जिसे हाइपोग्लाइसीमिया इंसेफेलोपैथी कहा जाता है। लीची में मिथाइल साइक्लोप्रोपाइल-ग्लाइसिन (MCPG), नाम का एक केमिकल भी पाया जाता है।

बिहार के स्वास्थ्य अधिकारियों ने माता-पिता को सलाह दी है कि वह अपने बच्चों को खाली पेट लीची न खिलाएं और आधा पका हुआ या बिना लीची वाला भोजन ही करें।

Image Credit: Foodie Baniya

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें ।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
#MumbaiRains are going on and on. Looks like a rainy night ahead t.co/P0fyNgvNS1
Friday, June 14 21:51Reply
#Duststorm along with #rain and #thundershowers will be a sight in parts of #Delhi and and its adjoining areas like… t.co/Qu7fIBmeUU
Friday, June 14 21:04Reply
A Low pressure area will form in the Bay of Bengal next week. #Monsoon #Monsoon2019 t.co/3UmmcIgzva
Friday, June 14 20:30Reply
#Duststorm along with #rain and #thundershowers will be a sight in parts of #Punjab, #Haryana, #Delhi and #NCR area… t.co/tOJmOH8TAn
Friday, June 14 20:30Reply
#MumbaiRains continue, expect more rains tomorrow as well t.co/OFw2hCyAnA
Friday, June 14 20:02Reply
During the next 24 hours, rains are likely over #Mahabaleshwar, #Vengurla, #Matheran, #Dahanu, #Satara, #Kolhapur a… t.co/mGxJA7ZU0m
Friday, June 14 20:00Reply
Heavy #rain is expected in Naliya, Mandvi and Bhuj in Kutch and Jamnagar, Okha, Dwarka, Porbandar and Khambhalia i… t.co/Kucg7ZJFxD
Friday, June 14 19:30Reply
Mumbai Doppler Radar shows 24.42% cloud build-up in #Mumbai. #MumbaiRains t.co/ZfQietfhwI
Friday, June 14 19:06Reply
Karnataka State Natural Disaster Monitoring Centre (KSNDMC) recently rolled out a report for #Karnataka which lists… t.co/MIEpdcGQeD
Friday, June 14 19:00Reply
Farmers can also opt to allow the contribution to be made directly from the benefits drawn from the PM-Kisan scheme… t.co/OgrSXzRnUZ
Friday, June 14 18:45Reply

latest news

USAID Skymet Partnership

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try