Skymet weather

[Hindi] जतिन सिंह, एमडी स्काइमेट: चक्रवाती तूफान निवार के मद्देनजर चेन्नई और पुद्दुचेरी समेत तमिलनाडु में चेतावनी जारी, उत्तर भारत के पहाड़ों पर भी बारिश और हिमपात की संभावना

November 24, 2020 11:00 AM |
Well-Marked Low in the Bay

पिछले हफ्ते अरब सागर पर बना डिप्रेशन चक्रवाती तूफान में तब्दील हुआ। गति नाम का यह तूफान अदन की खाड़ी और इससे सटे सोमालिया से टकराने के बाद अब कमजोर होकर डिप्रेशन बन गया है। यह भारत के मौसम को प्रभावित नहीं करेगा।

दूसरी तरफ बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिमी भागों पर बना मौसमी सिस्टम प्रभावी होकर डिप्रेशन बन गया है। 24 नवंबर को यह चक्रवाती तूफान बन सकता है। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के बाद का बंगाल की खाड़ी का यह पहला चक्रवाती तूफान होगा। इसका नाम होगा 'निवार’। यह 25 नवंबर को तमिलनाडु तट को पार से टकराएगा। इसके चलते तमिलनाडु, केरल, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के विभिन्न भागों में भीषण बारिश की संभावना है। कई स्थानों पर बाढ़ जैसी स्थिति की भी संभावना है।

उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों पर हुई हाल की बर्फबारी का असर दिल्ली समेत उत्तर भारत में मैदानी राज्यों पर दिखाई दे रहा है। पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में अधिकांश स्थानों पर न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट हुई है। कपूरथला में 22 नवंबर को सबसे कम तापमान 4.4 डिग्री दर्ज किया गया। राजधानी दिल्ली में भी पिछले 2-3 दिनों के दौरान तापमान सामान्य से 5 डिग्री तक नीचे रिकॉर्ड किया गया। 

उत्तर भारत

सप्ताह के शुरुआती दिनों में पहाड़ी राज्यों में बारिश और हिमपात जारी रहेगा। पंजाब और हरियाणा के भी तराई क्षेत्रों में इस अवधि के दौरान हल्की वर्षा होने की संभावना है। आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। यह सब एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के चलते हो रहा है। यही कारण है कि न्यूनतम तापमान सप्ताह के शुरुआती दिनों में बढ़ेगा। 27-28 नवंबर से पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में फिर से ठंडी हवाएँ तेज़ हो जाएंगी जिससे सप्ताह के अंत में कड़ाके की ठंड के साथ कोहरा और धुंध छाने के आसार हैं।

पूर्व और पूर्वोत्तर भारत

इस सप्ताह पूर्वी और पूर्वोत्तर राज्यों में मौसमी हलचल कम से कम होगी। इस सप्ताह के दौरान वर्षा होने की उम्मीद नहीं है। सप्ताह के आखिरी दिनों के दौरान बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में रात के तापमान में 2-3 डिग्री की गिरावट आएगी। संपूर्ण पूर्वोत्तर भारत के लिए भी ऐसी ही स्थिति अपेक्षित है।

मध्य भाग

आमतौर पर 24 नवंबर तक पूरे मध्य भारत में मौसम साफ और शुष्क रहने की संभावना है। ओडिशा में न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की जाएगी। 25 से 27 तारीख के बीच ओडिशा, छत्तीसगढ़, विदर्भ, मराठवाड़ा और दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र में बारिश होने के आसार हैं। इसी दौरान पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश में भी फिर से वर्षा देखने को मिल सकती है।

दक्षिण प्रायद्वीप

संभावित चक्रवाती तूफान निवार के चलते बंगाल की खाड़ी में हलचल बहुत तेज़ हो गई है। उत्तर-पश्चिमी दिशा में बढ़ते हुए यह तमिलनाडु के पास रहा है। तमिलनाडु में तटीय शहरों में बारिश शुरू हो गई है। 24 से 26 नवंबर के बीच चेन्नई और पुद्दुचेरी समेत तमिलनाडु के अधिकांश भागों में भीषण बारिश होने की संभावना है। 24 और 25 नवंबर अधिकांश भागों में भयावह मौसम की स्थिति की आशंका है। इस अवधि के दौरान रायलसीमा, आंध्र प्रदेश दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और केरल में भी भारी बारिश होने की संभावना है।

दिल्ली एनसीआर

दिल्ली में 22 नवंबर को सुबह का न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह पिछले 17 वर्षों में सबसे कम है। इससे पहले दिल्ली में 29 नवंबर 2003 को 6.1 डिग्री दर्ज किया गया था। सप्ताह के दौरान कोई वर्षा होने की उम्मीद नहीं है। शुरुआती दिनों में सुबह के समय कुहासा छाया रहेगा और आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। रात के तापमान में 25 नवंबर से वृद्धि होगी। उसके बाद सप्ताहांत तक फिर से एक तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी जिससे शीतलहर की स्थिति पैदा होगी।

चेन्नई

यह सप्ताह तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई पर भारी पड़ने वाला है। चेन्नई के पास से ही चक्रवाती तूफान निवार टकराएगा जिससे चेन्नई में 23 से 26 नवंबर के बीच भीषण बारिश देखने को मिलेगी। 26 नवंबर के बाद मध्यम बारिश जारी रहेगी।

दिल्ली प्रदूषण

इस साल दिल्ली-एनसीआर में दीपावली के बाद वायु प्रदूषण बढ़ने से पहले इसलिए कम हो गया क्योंकि 15 नवंबर को दिल्ली में अच्छी बारिश दर्ज की गई थी, जिसने आतिशबाज़ी से उपजे प्रदूषण और पहले से मौजूद प्रदूषण को धो दिया। इस सप्ताह दिल्ली प्रदूषण का मिला जुला रूप देखने को मिलेगा। 23-24 नवंबर को स्थिति ठीक रहेगी लेकिन 25 से 27 नवंबर के बीच प्रदूषण में इजाफा होगा जिससे वायु गुणवत्ता सूचकांक फिर से खराब हो सकता है। हालांकि 27 नवंबर से हवाओं का पश्चिमी रुख प्रदूषण को साफ करने में मदद करेगा।

Image credit: Deccan Herald

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×