[Hindi] बिहार में 26 अप्रैल से 1 मई तक बारिश के आसार; काल बैसाखी का प्रकोप भी संभव

April 25, 2018 2:45 PM |

Bihar Lightning and Rain deathsबिहार में लंबे समय से जारी शुष्क मौसम अब करवट लेने वाला है। लगभग एक सप्ताह के शुष्क मौसम के बाद कल से बारिश की गतिविधियां शुरू हो सकती हैं। अनुमान है कि 26 और 27 अप्रैल को राज्य में कुछ स्थानों पर बारिश के बाद 28 अप्रैल को मौसम शुष्क रहेगा। लेकिन 29 अप्रैल से 1 मई तक बारिश का एक नया झोंका राज्य के कई भागों को प्रभावित कर सकता है।

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस दौरान राज्य के पूर्वी और उत्तरी भागों में काल बैसाखी जैसी मौसमी हलचलें भी देखने को मिल सकती हैं। 26 अप्रैल से 1 मई के बीच होने वाली मौसमी हलचलों में गरज के साथ बारिश के साथ कुछ स्थानों पर तूफानी हवाएँ चलने और बादलों की तेज़ गड़गड़ाहट के साथ बिजली गिरने की भी आशंका है।

मार्च से मई के दौरान प्री-मॉनसून सीज़न में आमतौर पर बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में काल बैसाखी का प्रकोप देखने को मिलता है जिसमें कई लोगों की जान भी चली जाती है। काल बैसाखी उन मौसमी स्थितियों को कहा जाता है जिसमें बादलों की डरावनी गर्जना के साथ तूफानी हवाएँ चलना, बारिश होना और बिजली की तेज़ चमक के साथ बिजली गिरने की घटनाएँ होती हैं।

बिहार में इस समय प्री-मॉनसून बारिश और काल बैसाखी जैसी गतिविधियों से जान और माल को नुकसान होता है। ऐसे मौसमी बदलाव फसलों को चौपट कर देते हैं। इस समय राज्य में रबी फसलों की कटाई और मड़ाई चरम पर है। कई इलाकों में कटाई-मड़ाई हो चुकी है जबकि कुछ स्थानों पर अभी भी फसलें खेतों में खड़ी हैं। गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Lightning in Bihar, Jharkhand and WB

स्काइमेट की कृषि टीम के अनुसार बिहार में गेहूं की लगभग 30-35 प्रतिशत हार्वेस्टिंग अभी बाकी है। ऐसे में अगले कुछ दिनों के दौरान संभावित मौसमी बदलाव किसानों की परेशानी बढ़ा सकते हैं। अनुमान के मुताबिक बारिश की शुरुआत 26 अप्रैल से बिहार के उत्तर-पूर्वी भागों से होगी। 27 अप्रैल को बिहार के उत्तरी भागों सहित अन्य इलाकों में गतिविधियां देखने को मिलेंगी।

[yuzo_related]

वरिष्ठ मौसम विशेषज्ञ महेश पालावत के अनुसार 28 अप्रैल को अल्प विराम रहेगा उसके बाद 29 अप्रैल से 1 मई तक बिहार में अच्छी बारिश होने की संभावना है। इस दौरान अररिया, किशनगंज, सुपौल, भागलपुर, गया, पटना, मधुबनी, सीतामढ़ी सहित आसपास के भागों को काल बैसाखी प्रभावित कर सकती है। सुझाव है कि इस दौरान खेती सहित खुले आसमान में होने वाली अन्य गतिविधियों को या तो बंद रखें या सावधानी बरतें, ताकि किसी अनहोनी का सामना ना करना पड़े।

Image credit: The Financial Express

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

 

 


For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories

Weather on Twitter
During the last 24 hours, Tamil Nadu has received heavy #rains at many places. Nungambakkam observatory of Chennai… t.co/5uqnsFTd12
Thursday, October 17 08:50Reply
Yesterday, Northeast Monsoon has made an onset over #TamilNadu. Monsoon surge has also increased over the area lead… t.co/t10qmeSPRX
Thursday, October 17 08:49Reply
Just yesterday, Pamban in #TamilNadu recorded a whopping 102 mm of rainfall in a span of 24 hours with which, it be… t.co/yMujZxfS2w
Thursday, October 17 08:48Reply
The death toll in #Japan after #Typhoon #Hagibis has reached to a whopping 72 #weather t.co/qbsB08cgNt
Wednesday, October 16 22:16Reply
17 अक्टूबर का मौसम पूर्वानुमान: दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून ने ली विदाई, दक्षिण भारत में भारी बारिश #monsoon2019 #weathert.co/OD7xccYfAV
Wednesday, October 16 21:52Reply
Weather Forecast Oct 17: Northeast Monsoon rains to lash Tamil Nadu, Karnataka, Kerala, Andhra #weather #Raint.co/lBsHaIxlGo
Wednesday, October 16 21:16Reply
हम उम्मीद करते है की दक्षिण झारखंड में एक-दो स्थानों पर 17 अक्टूबर को हल्की बारिश हो सकती है #weather #Rain #Bihart.co/5iB80Q2JS8
Wednesday, October 16 21:00Reply
हवामान अंदाज 17 ऑक्टोबर: सिंधुदुर्ग, सांगली आणि सातारा येथे पाऊस अपेक्षित #Marathi #Sangli #Satara t.co/ZzFfwFbujB
Wednesday, October 16 20:45Reply
दक्षिण भारत में उत्तर-पूर्वी मॉनसून की हुई शुरुआत। केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में होगी बारिश। #Hindit.co/gT2s3sYPwM
Wednesday, October 16 20:15Reply
कमी दाबाचे क्षेत्र जे सध्या लक्षद्वीपजवळ चक्राकार परिभ्रमण म्हणून उपस्थित आहे. ही प्रणाली पश्चिम / वायव्य दिशेने उ… t.co/Gdm6lldzMU
Wednesday, October 16 20:00Reply

latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try