>  
[Hindi] दिल्ली में बारिश नदारद लेकिन यमुना के बढ़ते जलस्तर ने लोगों को चौंकाया

[Hindi] दिल्ली में बारिश नदारद लेकिन यमुना के बढ़ते जलस्तर ने लोगों को चौंकाया

04:28 PM

Wamuna_delhi_waterराजधानी दिल्ली में नाले का रूप ले चुकी यमुना का जलस्तर आमतौर पर हर वर्ष मॉनसून में बढ़ता है। नदी में अधिक पानी होने और तेज़ बहाव के चलते इसकी प्रकृतिक रूप से कुछ हद तक सफाई हो जाती है। इस बार अब तक नदी के जलस्तर में वृद्धि भले नहीं हुई थी लेकिन रविवार को पानी बढ़ा जिसने आसपास के लोगों को चिंता में डाल दिया। जब बारिश ना हो रही हो और नदी का जलस्तर ऊपर जा रहा हो तो यह दृश्य किसी को भी चौंका सकता है।

दिल्ली में रविवार से यमुना का जलस्तर बढ़ रहा था जिसके चलते सोमवार को यमुना खतरे के निशान के करीब पहुँच गई थी। हरियाणा के यमुनानगर स्थित हथनीकुंड बैराज से छोड़ा गया 1.47 लाख क्यूसेक पानी सोमवार को दिन में दिल्ली पहुंचा और दिल्ली में यमुना के जलस्तर में अचानक वृद्धि हुई। सोमवार दोपहर करीब दो बजे जलस्तर 204.81 मीटर दर्ज किया गया जो खतरे के निशान से महज़ 2 सेंटीमीटर नीचे था। हालांकि शाम से जलस्तर में फिर से गिरावट शुरू हो गई थी और जलस्तर 204.79 मीटर पर आ गया था।

Related Post

इस बीच अधिकारियों का कहना है कि जलस्तर बढ़ने से अब तक किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। यदि जलस्तर ख़तरे के निशान से ऊपर जाता है तो आसपास के इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए मुश्किल पैदा हो सकती है। एहतियात के तौर पर नदी के तटीय भागों से सटी बस्तियों में नावें तैयार रखी हैं। राहत एजेंसियां भी सतर्क हैं।

यमुना नदी के जलस्तर में वृद्धि होने और पानी के खतरे के निशान से ऊपर पहुंचने से बाटला हाऊस, जैतपुर और अलीपुर के आसपास विकसित अनधिकृत कॉलोनियों में पानी भर जाता है और लोगों की मुश्किलें बढ़ जाती हैं। हालांकि जलस्तर में गिरावट होने से लोगों ने राहत की सांस ली है।

Image credit: News18.com

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।