>  
[Hindi] दिल्ली में जल्द गर्मी हो सकती है प्रचंड; प्री-मॉनसून हलचल में कमी के आसार

[Hindi] दिल्ली में जल्द गर्मी हो सकती है प्रचंड; प्री-मॉनसून हलचल में कमी के आसार

07:04 PM

 Heat-wave Delhi and rain

राजधानी दिल्ली और आसपास के शहरों में मई महीने का पहला पखवाड़ा अब तक सहज मौसम के साथ बीता है। यानि राजधानी में अब तक अधिकतम तापमान 45 डिग्री के स्तर पर नहीं पहुंचा है। इसके पीछे कारण हैं समय के अंतराल पर हो रही प्री-मॉनसूनी हलचलें। दिल्ली में इस सीज़न में सबसे अधिक तापमान पालम में 43.2 डिग्री और सफदरजंग में 42.8 डिग्री के स्तर पर पहुंचा है। जबकि पिछले 10 वर्षों के आंकड़े देखें तो मई के महीने में पारा प्रायः 45 डिग्री के आसपास भी रिकॉर्ड किया जाता है।

Capture

पिछले 10 वर्षों में दिल्ली में मई महीने में रिकॉर्ड किए गए सबसे अधिक तापमान

राजधानी दिल्ली और आसपास के भागों को 2-3 मई, 7-8 मई, 13 मई और उसके बाद आज यानि 16 मई की सुबह के समय आँधी, तूफान और बारिश ने प्रभावित किया। यही वजह है कि अधिकतम तापमान चरम पर नहीं पहुंचा। मई में अब तक दक्षिण-पूर्वी और दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ चलती रही हैं जिसके चलते वातावरण में लगातार बनी नमी से भी तापमान में ब्रेक लगी रही। दिल्ली में मई महीने में आमतौर पर 31.5 मिलीमीटर बारिश होती है जबकि इस बार पहले पखवाड़े में ही 24 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। हालांकि बाकी के 15 दिनों में बारिश के आसार कम हैं जिससे इन आंकड़ों में अधिक वृद्धि होने की संभावना है।

Related Post

इस बीच अगले 24 घंटों तक हवा में नमी बनी रहेगी जिससे तापमान 40 डिग्री से ऊपर जाने की स्थिति में कहीं-कहीं धूलभरी आँधी और बादलों की गर्जना हो सकती है। लेकिन अगले 2-3 दिनों के बाद यानि 19-20 मई से दिल्ली और इससे सटे शहरों में स्थायी रूप से मौसम बदलने वाला है। अनुमान है कि आर्द्र दक्षिण-पूर्वी और दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ बदलेंगी और दिल्ली में लंबे समय के लिए शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाएँ डेरा जमा लेंगी।

उत्तर-पश्चिमी हवाएँ जब लगातार कई दिन चलती हैं तो वातावरण में नमी कम हो जाती है, पश्चिम में पाकिस्तान से यह गर्मी लाती हैं और तेज़ धूप होती है। यानि दिल्ली में अगले लगभग 10 दिनों के लिए मुख्यतः शुष्क मौसम के साथ तेज़ धूप अपना असर दिखाएगी और पारा तेज़ी से ऊपर चढ़ेगा। कह सकते हैं कि लू जैसे हालात जल्द ही देखने को मिल सकते हैं। इस दौरान आपको तूफान और आँधी से नहीं बल्कि प्रचंड गर्मी से डरना होगा और इससे बचने का इंतज़ाम करना होगा।

Image credit: DNA India

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।