[Hindi] गुजरात में बारिश थमी, लेकिन मॉनसून की वापसी दशहरा से पहले होने की उम्मीद नहीं

October 3, 2019 8:53 PM |

gujarat withdrawal (2)

गुजरात में हाल ही में डिप्रेशन और निम्न दबाव के क्षेत्र ने 26 सितंबर से 1 अक्टूबर के बीच राज्य में बहुत अच्छी बारिश दी है। उसके बाद से मौसम लगभग शुष्क बना हुआ है। क्योंकि निम्न दबाव का क्षेत्र मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश होते हुए पूर्वी भारत की ओर चला गया है। यह सिस्टम अब एक चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र के रूप में बिहार पर है।

Also read in English: Withdrawal of Monsoon from Gujarat not likely before Dussehra 2019

पिछले 24 घंटों के दौरान, गुजरात के दक्षिण-पूर्वी जिलों में में कुछ स्थानों पर रुक-रुक कर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। वलसाड में पिछले 24 घंटों में 3 मिमी की बारिश दर्ज की गई।

इस अवधि के दौरान, अहमदाबाद, अमरेली, बड़ौदा, भावनगर और भुज में अधिकतम तापमान सामान्य से दो से तीन डिग्री नीचे दर्ज किया गया, जबकि दीसा में अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम रहा। नवरात्रि 2019 के बाद, मौसम साफ होने की वजह से रात का तापमान एक-दो डिग्री गिर सकता है।

आने वाले दिनों में, बारिश की कोई विशेष गतिविधियां दिखाई नहीं दे रही हैं। हालांकि नवरात्रि 2019 के अंत तक आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रह सकते हैं। ऐसे में दिन के तापमान में बढ़ोतरी की कोई उम्मीद नहीं है।

हालांकि, दशहरा के बाद मौसम में बदलाव साफ-साफ दिखाई देने लगेगा। मौसम शुष्क हो जाएगा। दिन में तापमान बढ़ने की संभावना है। दक्षिण पश्चिम मानसून 2019 की वापसी 10 अक्टूबर से पहले होने की उम्मीद नहीं है।

Image Credit: Firstpost

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।

देश भर के मौसम का पूर्वानुमान जानने के लिए देखें वीडियो :







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories





latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×