>  
[Hindi] कश्मीर और हिमाचल में बारिश व बर्फबारी में कमी; अगले कुछ दिनों तक शुष्क मौसम के आसार

[Hindi] कश्मीर और हिमाचल में बारिश व बर्फबारी में कमी; अगले कुछ दिनों तक शुष्क मौसम के आसार

11:00 AM

Snowfall in Kashmir and Himachal उत्तर भारत के पहाड़ों से लेकर मैदानों तक सर्दी ने अपने पैर पसार दिये हैं। पिछले 5-6 दिनों से जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊंचे पहाड़ी स्थानों पर बारिश और बर्फबारी हो रही है। ठंडी हवाएँ चल रही हैं और तापमान अधिकांश स्थानों पर सामान्य से नीचे पहुँच गया है। अगले 24 घंटों तक हिमालयी चोटियों पर बर्फबारी इसी तरह से जारी रहने के आसार हैं। 24 घंटों के बाद मौसम शुष्क हो जाएगा।

पिछले 24 घंटों के दौरान हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी स्थानों रोहतांग पास, सोलंग नाला, केलोंग, कुफ़री, नरकंडा और कालपा में हल्की से मध्यम बर्फबारी दर्ज की गई है। दूसरी ओर जम्मू कश्मीर में हल्की बारिश देखने को मिली। लेकिन बर्फबारी नहीं हुई। पिछले दिनों से जारी बर्फबारी के चलते जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में शीतलहर जैसे हालात बने हुए हैं। हालांकि सैलानी बर्फबारी के साथ इस कड़ाके की ठंड का भरपूर मज़ा भी उठा रहे हैं।

Related Post

पश्चिमी हिमालयी राज्यों में बर्फबारी दे रहा पश्चिमी विक्षोभ अब आगे निकल गया है। हालांकि एक नया पश्चिमी विक्षोभ भी जल्द ही दस्तक देने वाला है, जो इस समय उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे जम्मू कश्मीर तक पहुँच गया है। इस सिस्टम के प्रभाव से स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों का आंकलन है कि जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में गरज के साथ हल्की बारिश होगी। पहाड़ी स्थानों पर कहीं-कहीं हल्की बर्फबारी भी देखने को मिलेगी।

जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में गरज और वर्षा वाले बादलों की ताज़ा स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए मैप पर क्लिक करें।

Jammu Kashmir Lightning and rain

आने वाला पश्चिमी विक्षोभ भी बहुत प्रभावी नहीं है और यह अगले 24 से 36 घंटों में जम्मू कश्मीर से भी आगे निकल जाएगा जिससे पर्वतीय राज्यों में मौसम हलचल शांत होने का अनुमान है। 22 नवंबर से फिलहाल इन राज्यों में आसमान साफ और मौसम शुष्क हो जाएगा। दिन में धूप खिली रहेगी लेकिन कड़ाके की ठंडक दिन और रात दोनों समय देखने को मिलेगी। पर्यटकों के लिए सैर का यह सही समय है क्योंकि मौसम की बाधा नहीं होगी और बर्फ से ढँकी वादियाँ और मनमोहक हो गई हैं। हालांकि गिरती हुई बर्फ का लुत्फ नहीं उठा सकेंगे।

Image credit: Indiatimes.com

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।