Skymet weather

[Hindi] केरल में सक्रिय मॉनसून ने कई इलाकों में दी बारिश, अगले 24 से 48 तक बारिश जारी रहने के आसार

August 22, 2019 2:07 PM |

Kerala Monsoon rains --Deccan Chronicle 1200

केरल में लंबे समय की सुस्ती के बाद मॉनसून सक्रिय हुआ है। स्काइमेट ने जैसा अनुमान लगाया था बीते 24 घंटों में केरल में अच्छी बारिश रिकॉर्ड की गई है। हमारा अनुमान है कि आज और कल केरल में कई इलाकों में मॉनसून प्रभावी बना रहेगा और मध्यम से भारी बारिश देखने को मिल सकती है। अगले 24 घंटों के बाद बारिश की गतिविधियों में कमी आ सकती है। हालांकि हल्की से मध्यम बारिश अगले दो-तीन दिनों तक बनी रहेगी। उसके बाद बारिश फिर से केरल से हट जाएगी।

केरल में अब तक के मॉनसून के प्रदर्शन का ज़िक्र करें तो 1 जून से 22 अगस्त के बीच केरल में 1661 मिलीमीटर बारिश हुई है, जो सामान्य वर्षा 1683 मिमी से मात्र 1% कम है। यानि जहां जून और जुलाई के पहले पखवाड़े तक केरल बारिश के मामले में पीछे था वहीं जुलाई के आखिर से अगस्त के शुरुआती दिनों में हुई बारिश के कारण अब यह सामान्य दायरे में आ गया है। लेकिन अब अगस्त के बाकी दिनों में फिर से बारिश में कमी आ जाएगी।

Read this in English: MORE RAINS AHEAD FOR KERALA, SOME PLACES TO RECEIVE HEAVY RAINS

केरल भारत के सबसे अधिक वर्षा वाले स्थानों में से हैं। यहाँ मॉनसून के शुरुआती दिनों में मूसलाधार वर्षा होती है। लेकिन अगस्त से बारिश में कमी आने लगती है। केरल में जुलाई 726 मिमी बारिश के साथ सबसे अधिक बारिश वाला महीना है। अगस्त में यह घटकर 420 मिमी पर और सितंबर में 240 मिमी पर आ जाती है।

वैसे केरल भारत के उन भागों में से है जहां पूरे साल रुक-रुक कर बारिश होती रहती है। इसमें कभी-कभी ऐसा दौर भी आता है जब बारिश बंद हो जाती है।

इस साल केरल में मॉनसून का प्रदर्शन बहुत संतोषजनक नहीं रहा है । अगस्त में अब तक सामान्य से 32% कम वर्षा हुई है। इस महीने के शुरुआती चार दिनों में बहुत कम बारिश हुई। लेकिन 5 अगस्त से मॉनसून कुछ सक्रिय हुआ था और 15 अगस्त तक अलग-अलग तीव्रता में बारिश दर्ज की गई।

देश भर के मौसम का हाल जानने के लिए देखें विडियो

इसमें 9 से 11 अगस्त के बीच केरल में भीषण बारिश रिकॉर्ड की गई जिससे राज्य के कुछ इलाकों में फिर से बाढ़ जैसे हालात बने गए थे। इसके चलते बारिश में कमी के आंकड़ों में सुधार देखने को मिला। और औसत वर्षा सामान्य से 1% ऊपर आ गई थी। लेकिन 15 अगस्त से जब बारिश थमी तो बारिश का आंकड़ा सामान्य से 1% नीचे पहुँच गया।

गौरतलब है कि केरल भारत का वह राज्य है जो मॉनसून का सबसे पहले स्वागत करता है। मॉनसून की विदाई भी मॉनसून सीज़न के आखिर में होती है। यानि केरल में मॉनसून सबसे अधिक समय बिताता है।

Image credit:

कृपया ध्यान दें: स्काइमेट की वेबसाइट पर उपलब्ध किसी भी सूचना या लेख को प्रसारित या प्रकाशित करने पर साभार: skymetweather.com अवश्य लिखें।







For accurate weather forecast and updates, download Skymet Weather (Android App | iOS App) App.

Weather Forecast

Other Latest Stories






latest news

Skymet weather

Download the Skymet App

Our app is available for download so give it a try

×